संवाद सहयोगी, नारायणगढ़ : डॉक्टर-वकील के साथ मारपीट के मामले में 6 दिन बीतने पर भी पुलिस के हाथ खाली हैं। बदमाशों की गिरफ्तारी को लेकर बार एसोसिएशन का वर्क सस्पेंड रहा था। मामले को लेकर डीएसपी से मिले। डीएसपी ने बार एसोसिएशन को आश्वासन दिया कि मामला सीआईए स्टाफ को दे दिया गया है।

बता दें कि घायल वकील पंकज ¨बदल ने पुलिस में शिकायत देकर आरोप लगाया कि वह 16 जनवरी की रात को लोंटो खाने पीने का समान लेने गए थे। उनके साथ दोस्त डाक्टर विकास गुप्ता भी था। तभी एक कार व बाइक पर सवार 7 बदमाश जिनके पास डंडे व लोहे की पाइप थी। उन्होंने पहले डॉ.विकास को कार से बाहर निकाल कर बुरी तरह मारपीट की और कुछ बदमाश वकील की तरफ आए उस पर वहीं डंडों व रॉड से हमला किया। कार पर भी तोड़फोड़ कर जान से मारने की धमकी देकर फरार हो गए । लोगों ने दोनों को सिविल अस्पताल पहुंचाया और पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने रसौर के आरोपित चमन, मदन, विकास समेत 7 के खिलाफ मामला दर्ज किया था। नारायणगढ़ बार एसोसिएशन ने वर्क सस्पेंड कर आरोपितों की धरपकड़ की मांग की और गिरफ्तारी को लेकर बार एसोसिएशन डीएसपी से मिले।

डीएसपी अमित भाटिया का कहना था कि इस घटना की जैसे सूचना मिली थी पुलिस ने बयानों पर मामला दर्ज कर दिया गया है। जो शिकायतकर्ता ने बयान दिये थे उसी के अनुसार कार्रवाई कर दी गई थी। पुलिस धरपकड़ कर रही है। दो लोगों के नाम सामने आए थे उनकी पहचान हो चुकी है। पुलिस उन्हें जल्द गिरफ्तार कर लेगी। आरोपितों की गिरफ्तारी को लेकर वकीलों की बार एसोसिएशन अभी आई थी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस