संवाद सहयोगी, नारायणगढ़

भारतीय किसान युनियन ने चेतावनी दी की यदि मुख्यमंत्री हरियाणा मनोहर लाल ने गुरुवार को भावंतर रैली में किसानों के नारायणगढ़ चीनी मिल पर बकाया 62 करोड़ रुपये दिलवाने के लिए कोई ठोस वादा नहीं किया तो किसान युनियन प्रदेश भर में आंदोलन छेड़ेगी।

किसान युनियन के प्रधान मलकीत ¨सह शाहपुरा ने कहा कि सरकार की नीतियां समझ से बाहर हैं। एक तरफ तो किसानों की आय दोगुनी करने का ¨ढढोरा पीट रही है दूसरी किसानों की खून पसीने की फसल का पैसा नहीं दिलवा रही। 29 अगस्त को सरकार के बुलावे पर किसानों के प्रतिनिधि मुख्यमंत्री से मिलने सीएम हाउस गये थे, वहां उन्होंने किसानों को नारायणगढ़ चीनी मिल से किसानो के बकाया 62 करोड़ रुपये दिलवाने से साफ हाथ खडे़ कर दिये थे।

किसान नेता राजीव शर्मा ने कहा कि मिल प्रबंधन ने किसानों के 62 करोड रुपये देने है जबकि इससे अलग 4 करोड़ दिसंबर की पोस्ट डेटिड चेक दिये हैं। इस प्रकार किसानों का कुल 66 करोड़ रुपये मिल प्रबंधन के पास बकाया है। जबकि मिल के वित्तीय महाप्रबंधक अश्वनी मित्तल किसानों को 30 करोड़ रुपया सितंबर अक्टूबर में मिल के पास पड़ी चीनी का पैसा आने पर देने का वादा कर रहे हैं बाकी का 32 करोड़ रुपये अगले सत्र में देने की बात कर रहे हैं। मिल प्रबंधन किसानों के पैसे का केवल आश्वासन में ही सर्कल घुमा रही है।

Posted By: Jagran