मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

अंबाला, जेएनएन। हरियाणा के कैबिनेट मंत्री अनिल विज ने कहा कि पूर्व मुख्‍यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा के घर पर सीबीआइ के छापे का जींद उपचुनाव से कोई लेना देना नहीं है। हुड्डा ने अपने 10 साल के शासन में इतनी खुराफातें की हैं कि इसका फल तो भोगना ही पड़ेगा। हुड्डा के ठिकानों पर CBI की छापेमारी जांच का हिस्‍सा थी और इस पर बयानबाजी गलत है।

पत्रकारों से बातचीत में विज ने कहा कि सीबीआइ स्‍वतंत्र जांच एजेंसी है और वह अपने तरीके से काम करती है। विज ने कहा कि 10 साल में इन्होंने कई खुराफातें कीं। इनकी खुराफातों में कई लोग , बिल्डर और नेता भी शामिल हैं। इनके अलावा कांग्रेस की नवनियुक्त महामंत्री प्रियंका गांधी वाड्रा के पति राबर्ट वाड्रा भी शामिल होंगे। इन छापों का जींद चुनावों का इससे कोई लेना देना नहीं। हमारा बस चलता तो ऐसे मौके पर कभी ये छापेमारी न होने देते। सीबीआई एक स्वतंत्र एजेंसी और वह अपने हिसाब से काम करती है।

यह भी पढ़ें: हुड्डा के आवास सहित दिल्ली-NCR में 30 जगहों पर CBI के छापे, जींद रैली में नहीं जा सके

विज ने कहा की हुड्डा का 10 साल तक राज रहा है। इस दौरान उन्‍होंने काफी गड़बडिय़ां कीं। विज ने कहा की ये मिल जुल कर सारे घपले करते हैं और इसे ही कांग्रेसिज्‍म कहते हैं। विज ने कहा सीबीआइ सारे मामलों की जांच कर रही है। सीबीआइ ने इन छापों के कारण अभी स्पष्ट नहीं किए हैं। लगता है सीबीआइ इनके केसों की गहराई में जाना चाहती है।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Sunil Kumar Jha

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप