Move to Jagran APP

Ambala News: गर्मियों की छुट्टियों में बच्चे रखेंगे रिकार्ड, महीने में कितने घंटे तक चला पंखा

Ambala News अंबाला में इस बार पहली से पांचवीं तक के विद्यार्थियों के लिए गर्मियों की छुट्टियों का काम कुछ अलग अंदाज में होगा। इसके लिए हरियाणा स्कूल शिक्षा परियोजना परिषद ने पत्र जारी कर इस संबंध में दिशा निर्देश दिए हैं। इसे एक्सपीरियंस लर्निंग का नाम दिया गया है।

By Jagran NewsEdited By: Himani SharmaPublished: Sat, 27 May 2023 08:25 AM (IST)Updated: Sat, 27 May 2023 08:25 AM (IST)
गर्मियों की छुट्टियों में बच्चे रखेंगे रिकार्ड, महीने में कितने घंटे तक चला पंखा

जागरण संवाददाता, अंबाला: इस बार पहली से पांचवीं तक के विद्यार्थियों के लिए गर्मियों की छुट्टियों का काम कुछ अलग अंदाज में होगा। इसके लिए हरियाणा स्कूल शिक्षा परियोजना परिषद ने पत्र जारी कर इस संबंध में दिशा निर्देश दिए हैं।

यह होमवर्क निपुण कार्यक्रम के तहत तो मिलेगा साथ ही इसे नेशनल एजुकेशन पालिसी (एनईपी) 2020 के आधार पर दिया जा रहा है। अब तक बच्चों का परंपरागत तरीके से होम वर्क दिया जाता था, लेकिन इस बार में इसमें बदलाव किया गया है।

एक्‍सपीरियंस लर्निंग का दिया जाएगा नाम

इसे एक्सपीरियंस लर्निंग का नाम दिया गया है। इस में नाना-नानी, दादा-दादी व परिवार के बड़े सदस्य मेंटर की भूमिका निभाएंगे, जिनकी देखरेख में बच्चे यह होमवर्क निपटाएंगे। इस में विद्यार्थियों को लिस्ट के अनुसार कम से कम दस गतिविधियां करनी होंगी।

यह गतिविधियां बच्चों को टीवी देखने, मोबाइल में व्यस्त रहने जैसे कार्यों से दूर करेगी और एक नया अनुभव प्रदान करेंगे। यह सारा होमवर्क चार वर्गों में बांटा गया है, जिसमें हर वर्ग में अलग-अलग कार्य (असाइनमेंट) दिए गए हैं। खास है कि इन गतिविधियों के रुपया खर्च नहीं होगा और इसे आसानी से पूरा भी किया जा सकता है।

इस तरह से मिलेगा होमवर्क

पहली से पांचवीं तक के विद्यार्थियों को चार वर्गों में बांटा होम वर्क दिया जाएगा। यह 30 व 31 को होने वाली पीटीएम में स्वजनों को भी बताया जाएगा ताकि वे इसे पूरा करवा सकें। कुल 44 असाइनमेंट विद्यार्थियों को दिए जाएंगे।

- मूंग, उड़द, चना आदि को अंकुरित करना, मोबाइल से रोजाना फोटो लेना, इनकी लंबाई नापना

- फलों के बीज साफ करना तथा उनकी गिनती करना। तरबूज, खरबूजे से निकले बीजों की संख्या को गिनना

- तीन पहेलियों को याद करना और अपनी आयु वर्ग के बच्चों से पूछना, तीन पारंपरिक व स्थानीय खेल खेलना

- परिवार के सदस्यों के कम से कम दस मोबाइल नंबर याद रखना

- घर में रखी वस्तुओं की सूची तैयार करना, धातुओं का भी विवरण तैयार करना

- घर में रोजाना कितने घंटे पंखा चलता है, महीने में कितने घंटे चला, कितनी बिजली खर्च हुई

- स्वजनों के साथ सब्जी मंडी जाना और कम से कम दस सब्जियों के रेट नोट करना

- टीवी व मोबाइल से सप्ताह में कम से कम एक दिन व्रत रखना, भोजन करते समय इनसे दूरी बनाना

- दादा-दादी, नाना-नानी से बात कर फैमिली ट्री बनाना, रिश्तेदार कहां रहते हैं और कौन सा संबंधी कहा रहता है, सूची बनाना

- पुराने समाचार पत्रों से खिलाड़ियों की तस्वीरें एकत्रित करना तथा उनके खेल के बारे में जानकारी लेना

- परिवार का सदस्य दोपहिया अथवा चौपहिया वाहन कितने किलोमीटर चला, महीने में कितना पेट्रोल व डीजल पर खर्च हुआ

- डाकघर, बैंक, बस स्टैंड, रेलवे स्टेशन, सब्जी मंडी, अनाज मंडी का भ्रमण करना

- माता-पिता, दादा-दादी के गांव के सरपंच, विधायक, राज्य के शिक्षा मंत्री का नाम, मुख्यमंत्री, राज्यपाल, प्रधानमंत्री, राष्ट्रपति का नाम याद करना


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.