जागरण संवाददाता, अंबाला शहर : एफसीआइ में नौकरी दिलाने के मामले में थाना सदर पुलिस ने पांच लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया है। आरोपितों की धरपकड़ करने के लिए पुलिस टीम बनाई गई है। पुलिस का दावा है जल्द ही आरोपित गिरफ्तार कर लिए जाएंगे। शिकायतकर्ता के अनुसार आरोपित मंत्रियों से जान पहचान होने की बात कहकर उन्हें अपने जाल में फंसाया गया।

हाउसिग बोर्ड कॉलोनी के परीक्षित ने बताया कि सितंबर, 2017 में सिटी के उत्तमनगर के निशांत के साथ उसकी मुलाकात हुई थी। उसने कहा था कि उसके पिता सुशील शर्मा, मां अनुराधा, कमल चौधरी तथा नीलोखेड़ी का कर्मवीर एफसीआइ में नौकरी दिलाने का काम करते हैं। इस तरह उन्हें आरोपितों की बातों पर विश्वास हो गया और नौकरी लगाने की बात कही। इस पर आरोपितों ने उससे दस लाख रुपये खर्च आने की बात कही। परीक्षित अक्टूबर, 2017 में उसने अपने भाई ऋषभ के खाते से निशांत और सुशील के ज्वाइंट अकाउंट में 50 हजार रुपये डाल दिए। इसके बाद उसने नवंबर में उनके अकाउंट में 25 हजार डाले। इस तरह उसने आरोपितों के खाते में अलग-अलग राशि डालता रहा। जब उनके खाते में पूरी रकम चली गई तो कोई ज्वाइनिंग लेटर नहीं आया तो उसने आरोपितों को इसके बारे में पूछना चाहा तो उनसे संपर्क नहीं हो पाया। इसके बाद उसे समझ आया गया उसके साथ धोखाधड़ी हुई है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस