जागरण संवाददाता, अंबाला : नागरिक अस्पताल की बाउंड्रीवाल अंबाला-शाहाबाद हाईवे के चौड़ीकरण में रोड़ा बन रही है। हाईवे चौड़ीकरण करने वाली निर्माण एजेंसी अस्पताल की बाउंड्री के अंदर स्थित बिजली के पावर हाउस का मीटर कक्ष और जलापूर्ति के स्थापित पंप हाउस की दीवार को पीछे करने के लिए निशानदेही कर चुकी है। साथ ही अस्पताल प्रशासन को इस बाबत सूचना भी दे दिया कि वह अपनी बाउंड्रीवाल को पीछे करे, अन्यथा हाईवे के चौड़ीकरण को ध्यान में रखते हुए गिराया जा सकता है। यह देख अस्पताल प्रशासन ने गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज के समक्ष मामले को रखा।

छावनी नागरिक अस्पताल की बाउंड्रीवाल को गिराने की कवायद शुरू हो चुकी है। अस्पताल की चारदीवारी अंबाला-शाहाबाद हाईवे के चौड़ीकरण में बाधा बन रही है। इस दीवार को गिराने से अस्पताल में बिजली सप्लाई के गेट के ठीक बगल बने मीटर हाउस और कैंसर रोगियों के लिए निर्माणाधीन ब्लाक में पानी सप्लाई के लिए पंप हाउस की बाउंड्रीवाल तोड़ी जानी है। बाउंड्रीवाल तोड़कर पीछे करने से लेकर मीटर रूम और पंप हाउस को बचाने में कितना खर्च आएगा और किस अधिकारी की संस्तुति होना आवश्यक है। इस समस्या से निपटने के लिए मंगलवार को गृहमंत्री के अस्पताल में निरीक्षण स्वास्थ्य विभाग से लेकर हाईवे निर्माण करने वाली एजेंसी के अधिकारियों ने अनिल विज के संज्ञान में मामले को पहुंचाया। इस पर गृहमंत्री स्वयं मौका देखने पहुंच गए।

नागरिक अस्पताल की बाउंड्रीवाल को पीछे करने के लिए स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को लिखित रूप से कह दिया गया है। मामला गृह मंत्री के भी संज्ञान में हैं। अस्पताल की बाउंड्रीवाल तोड़कर पीछे होते ही अंबाला शाहाबाद हाईवे के निर्माण कार्य में तेजी आएगी और लोगों को छावनी में जाम की समस्या से निजात मिलेगी।

मनिदर मलिक, एनएचआइ।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस