जागरण संवाददाता, अंबाला: मंत्री जी अगर मुझे न्याय नहीं मिला तो मैं कोठी पर आकर मिट्टी का तेल छिड़ककर खुद को आग लगा लूंगी, क्योंकि मेरा जीवन नरक हो गया है। दफ्तरों के चक्कर काटकर थक चुकी हूं। अब आपके दरबार में न्याय की उम्मीद लेकर आई हूं। अगर न्याय नहीं मिला तो मरने के सिवा मेरे पास कोई रास्ता नहीं है। ये कहना था अंबाला सिटी की रहने वाली नीलम का। रविवार को महिला विज के दरबार पहुंची और आपने पर बीती कहानी सुनाई। विज ने डीएसपी रामकुमार को जांच करने के आदेश दिए हैं। पति का दोस्त बनकर आया नजदीक

महिला के पति की 2017 में मौत हो गई थी। प्रदीप नामक एक व्यक्ति महिला के पति को करीब 2009 से जानता था। पति का दोस्त बनकर वह घर में आया। घर के लोग उसे परिवार का सदस्य मानने लगे और अपनी बातों को प्रदीप से बताने लगे। 2017 में पति की मौत के बाद महिला और प्रदीप में नजदीकियां बढ़ने लगी। दोनों घर में एक साथ रहने लगे। आरोप है कि प्रदीप ने शादी करने के लिए बोला था, लेकिन अब वह उसे छोड़कर चला गया। पहले भी महिला सुसाइड करने कर चुकी प्रयास

महिला ने कहा कि वह एसपी से भी न्याय मांगने गई थी। शिकायत के बाद भी कुछ कार्रवाई नहीं हुई तो कुछ दिनों पहले महिला ने सुसाइड करने का प्रयास किया। हालांकि आसपास के लोगों ने महिला को बचा लिया। अब महिला ने गृहमंत्री अनिल विज के दरबार में आकर न्याय नहीं मिलने पर खुद को आग लगाने की बात कही है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस