जागरण संवाददाता, अंबाला : शाहपुर से ऐतिहासिक गुरुद्वारा मरदों साहिब तक सड़क बनाए जाने की मांग काफी पुरानी थी। पहले 12 किलोमीटर का सफर तय करके पहुंचा जाता था लेकिन अब सवा छह किलोमीटर की सड़क के माध्यम से श्रद्धालु वहां पर पहुंच सकेंगे। उन्हें अपने आवागमन में भी सुविधा होगी। यह सड़क मार्च मास में तैयार होकर जनता को सौंप दी जाएगी। इसके अलावा यहां की सबसे पुरानी मांग शाहपुर फाटक बंद होने के कारण लोगों को काफी परेशानी होती है, उसे भी दूर करने का काम किया गया है। उक्त बातें स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने गांव शाहपुर से गुरुद्वारा मरदो साहिब तक 2 करोड़ 27 लाख रुपए की लागत से बनाई जाने वाली सड़क का शिलान्यास करने के बाद लोगों से कहीं। शाहपुर गांव में ही 11.80 लाख व 21.50 लाख रुपए की लागत से बनाई गई धर्मशालाओं का उद्घाटन किया। विज ने कहा यहां पर अंडर ब्रिज का निर्माण कार्य स्वीकृत हो गया है। इसके अलावा मच्छौंडा व नन्हेड़ा पर भी फ्लाईओवर मंजूर करवाने का काम किया गया है। इन पुलों के निर्माणों के बाद यह ग्रामीण क्षेत्र शहरों से जुड़ सकेगा तथा यहां पर और विकास कार्यों को तेजी से करवाने का काम किया जाएगा।मंत्री ने आनन्द नगर व डिफैंस इन्क्लेव में 84 लाख रुपए की लागत से बनाई जाने वाली विभिन्न गलियों व नालियों के निर्माण कार्य का भी शिलान्यास किया, वहीं तेली मंडी में बसंती माता मंदिर में 34 लाख रुपए की लागत से बनाई गई धर्मशाला का भी उद्घाटन किया। उन्होंने कहा कि इस वर्ष भी विकास रूपी पहिया निरंतर जारी रहेगा।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप