अहमदाबाद, एएनआइ। गुजरात के खेड़ा में रहने वाले लोगों को नहर पार करने के लिए अपनी जान जोखिम में डालनी पड़ती है। यहां नाइका व भेरई गांव के बीच से गुजर रही एक नहर पर बना काफी समय से टूटा हुआ है। इस कारण लोगों को टूटे पुल से होकर गुजरना पड़ता है। लोग बच्चों की जान भी जोखिम में डालने के लिए मजबूर हैं। उन्हें स्कूल जाने के लिए इसी टूटे पुल से होकर गुजरना पड़ता है।

ग्रामीणों के मुताबिक, पिछले दो माह से स्थानीय लोग अफसरों को इस पुल का काम पूरा करने के लिए पत्र लिख रहे हैं, लेकिन कोई कदम नहीं उठाया गया। इस पुल से उन्हें सिर्फ एक किमी जाना पड़ता है और अगर वो दूसरा रास्ता चुनते हैं तो उन्हें 10 किमी चलना पड़ता है।

वहीं, मामला सामने आने के बाद खेड़ा कलेक्टर ने कहा है कि जल्द इस पुल का काम पूरा कर लिया जाएगा। उनके अनुसार, बारिश की वजह से पुल का काम शुरू नहीं पाया था लेकिन अब इसे जल्द पूरा किया जाएगा।

Posted By: Sachin Mishra