अहमदाबाद, जेएनएन। गुजरात में वडोदरा के महाराजा सयाजीराव गायकवाड यूनिवर्सिटी की एक छात्रा का शव रविवार को एक तालाब से मिला है। छात्रा पिछले तीन से लापता थी। तालाब के किनारे एक बैग में से दुर्गंध आने से किसी ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस का मानना है कि छात्रा से दुष्कर्म करने के बाद उसकी हत्या कर दी गई और शव को बैग में बंद कर तालाब में फेंक दिया गया है। पुलिस ने कहा कि पोस्टमोर्टम व एफएसएल की रिपोर्ट के बाद ही इसकी पुष्टि हो पाएगी।

जानकारी के मुताबिक, चाणसद गांव की 20 वर्षीय छात्रा एक यूनिवसिर्टी में बीकॉम के तीसरे साल की पढ़ाई कर रही थी। छात्रा तीन दिन पहले लापता हो गई थी। परिजनों ने काफी खोजबीन के बाद पुलिस थाने में शिकायत दर्ज करवाई थी। पुलिस ने भी मामला दर्ज कर जांच शुरू की थी। इस बीच, रविवार को पादरा पुलिस को सूचना मिली की चाणसद गांव के ब्लेक हेवन नामक स्कीम के निकट स्थित तालाब में से काफी दुर्गंध आ रही है। पुलिस की टीम को मौके पर पहुंच गई। पुलिस ने तालाब के किनारे एक बैग देखा और उसे खोलते चौक गई। बैग में लापता छात्रा का शव था। पुलिस ने तुरंत ही इसकी सूचना दी। परिजनों ने की सिनाख्त के बाद शव को पोस्टमोर्टम के लिए भेज दिया।

पुलिस ने का कहना है कि छात्रा के शव को चोट के निशान है। उसकी हत्या कर शव को बैग में बंद कर फेंक दिया गया है। हालांकि हत्या करने से पहले उससे दुष्कर्म किया गया या नहीं। इस संबंध में पुलिस ने चुप्पी साध ली है। पुलिस ने कहा कि पीएम रिपोर्ट व एफएसएल रिपोर्ट के बाद ही आगे की जानकारी दी जाएगी। पुलिस ने तालाब के आसपास व एरिया में लगे सीसीटीवी फुटेज खंखाल रही है। जांच में डॉग स्क्वायड की मदद ली जा रही है। 

गुजरात की अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Sachin Mishra

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस