भरुच (गुजरात), एएनआइ। 2007 के अजमेर दरगाह ब्लास्ट मामले में उम्र कैद की सजा काट रहे भावेश पटेल का गुजरात के भरुच में जोरदार स्वागत हुआ।

जानकारी के मुताबिक, भावेश के स्वागत में भाजपा और विश्व हिंदू परिषद के कई बड़े पदाधिकारी भी मौजूद रहे। भरुच के भावेश पटेल (40) व अजमेर के देवेंद्र गुप्ता (42) को अजमेर दरगाह ब्लास्ट मामले में जयपुर की एक कोर्ट ने अगस्त, 2017 में उम्र कैद की सजा सुनाई थी। पिछले हफ्ते ही राजस्थान हाई कोर्ट ने इनको जमानत दी थी।

भावेश की जमानत की प्रक्रिया पूरी करने के लिए उनके भाई हितेश व कई औऱ लोग जयपुर पहुंचे थे। वापसी में भावेश का भरुच रेलवे स्टेशन पर स्वागत हुआ। सैकड़ों लोग भावेश के स्वागत के लिए रेलवे स्टेशन पहुंचे थे। भगवा रंग के कपड़े पहने भावेश जेल में साधु बन गया है, उसने अपना नाम स्वामी मुक्तानंद रख लिया है। स्टेशन से बाहर निकलने के बाद भी भावेश की घर वापसी पर जुलूस निकाला गया।

Posted By: Sachin Mishra