अहमदाबाद, जेएनएन। अहमदाबाद में वेलेंटाइन डे के दिन बैंक मैनेजर पत्नी सजनी की हत्या करने के बाद उसका शव प्रेमिका को गिफ्ट में देने वाले फरार पति को पुलिस ने 15 साल बाद गिरफ्तार किया है। अहमदाबाद अपराध शाखा पुलिस ने गुरुवार को पति तरुण धनराज को बेंगलुरु से दबोच लिया है। वह यहां एक साफ्टवेयर कंपनी में नाम बदल कर नौकरी कर रहा था। उसे अहमदाबाद लाया गया है।

जानें, क्या है मामला

जानकारी के मुताबिक, बोपल इलाके में हिरापन्ना फ्लेट की तीसरी मंजिल पर तरुण अपनी पत्नी सजनी के साथ रहता था। तरुण पेशे से शिक्षक था तथा उसकी पत्नी एक बैंक में मैनेजर थी। उसने 14 फरवरी, 2003 को फ्लैट में अपनी पत्नी की गला दबाकर हत्या कर दी। इसके बाद खुद शव के पास बैठकर रोने लगा था। घटना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने उसका बयान दर्ज कर लिया था। लेकिन डाग स्क्वायड की टीम को शंका होने पर उस पर निगरानी रखी गई थी। इस बीच, पुलिस को पता चला था कि तरुण के एक रेडियो में आरजे के रूप में काम करती युवती के साथ प्रेम संबंध हैं। पुलिस की छानबीन में पता चला था कि तरुण आरजे युवती से शादी करना चाहता था। लेकिन उसकी पत्नी बीच में कांटा थी। तरुण ने अपनी प्रेमिका को वेलेंटाइन डे के दिन पत्नी की हत्या कर उसका शव गिफ्ट करने का वादा किया था।

ऐसे हुआ फरार

पुलिस ने उस समय तुरुण को गिरफ्तार करने के लिए उसके घर पहुंची ही थी कि वह तबियत खराब होने का बहाना बनाकर अस्पताल में भर्ती हो गया। इसके बाद पुलिस अस्पताल के बाहर तैनात हो गई। लेकिन दूसरे दिन जब पुलिस अस्पताल में उसे गिरफ्तार करने पहुंची तो वह वहां से फरार हो चुका था।

इस तरह हुआ गिरफ्तार

अहमदाबाद अपराध शाखा पुलिस उपायुक्त जेके भट्ट ने गुरुवार को बताया कि हाईप्रोफाइल सजनी हत्याकांड में पुलिस पिछले 15 साल से फरार पति तरुण को कई राज्यों मे तलाश रही थी। इस दौरान सूचना मिली कि तरुण अपने एक संबंधी को फोन करता है। जिसके आधार पर पुलिस ने उसके फोन डिटेल निकाले तो पता चला कि तरुण बंगलुरु में छिपकर साफ्टवेयर कंपनी ओरेकल में काम करता है। पुलिस ने कंपनी में छापा मारकर तरुण को गिरफ्तार कर लिया। अपराध शाखा पुलिस ने बताया कि तरुण ओरकेल कंपनी में पिछले छह साल से काम करता था। वह यहां नाम बदलकर रहता था। उसने दूसरी शादी भी कर ली और उससे उसके दो बच्चे हैं। उसे गिरफ्तार कर अहमदाबाद लाया गया है। उसे कोर्ट में पेश कर रिमांड पर लेने की कार्रवाई शुरू कर दी है।

आरोपित पति तरुण पर एक लाख का इनाम था

हाईप्रोफाइल सजनी हत्याकांड में पुलिस ने फरार पति को पकड़ने के लिए एडीचोटी का जोर लगा दिया था। पुलिस की अलग-अलग टीमों ने कई राज्यों में उसकी तलाश की। लेकिन उसका कोई पता नहीं चल रहा था। इसके बाद पुलिस ने आरोपित तरुण धनराज का पता बताने वाले को एक लाख रुपये का इनाम देने की घोषणा की थी। 

Posted By: Sachin Mishra

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप