Move to Jagran APP

Gujarat: प्रेमी के साथ मिलकर तीन साल के बेटे को दूध में जहर देकर मार डाला, गिरफ्तार

Gujarat प्रेमी के प्यार में पागल एक महिला ने अपने ही तीन वर्षीय पुत्र को प्रेमी के साथ मिल दूध में जहर देकर मार डाला। चिकित्सकों ने जब बच्चे की मौत का कारण जहर को बताया तो पति को शंका हुई और उसने उसकी रिपोर्ट निकलवाई।

By Sachin Kumar MishraEdited By: Published: Sat, 14 Aug 2021 05:06 PM (IST)Updated: Sat, 14 Aug 2021 05:06 PM (IST)
प्रेमी के साथ मिलकर तीन साल के बेटे को दूध में जहर मिलाकर पिलाकर मार डाला, गिरफ्तार। फाइल फोटो

अहमदाबाद, जागरण संवाददाता। गुजरात के अहमदाबाद में प्रेमी के प्यार में पागल एक महिला ने अपने ही तीन वर्षीय पुत्र को प्रेमी के साथ मिल दूध में जहर देकर मार डाला। चिकित्सकों ने जब बच्चे की मौत का कारण जहर को बताया तो पति को शंका हुई और उसने उसकी रिपोर्ट निकलवाई, इसके बाद इस हत्याकांड का खुलासा हुआ। अहमदाबाद के शहर कोटडा पुलिस थाना इलाके में रहने वाले अजय परमार का बनासकांठा के भागल गांव की पशा सोलंकी की पुत्री ज्योति सोलंकी के साथ हुआ था। ज्योति शादी से पहले कई साल तक पालनपुर में मामा देव सोलंकी के पास रही। यहां उसकी मित्रता भूपेंद्र परमार नामक युवक के साथ हुई। शादी के बाद ज्योति कई बार ससुराल छोड़कर भूपेंद्र से मिलने जाया करती थी। करीब डेढ़ माह पहले भी ज्योति अपने प्रेमी के साथ दो दिन घूम कर लौटी थी।

पति अजय ने बदनामी के डर से इस बात को छुपा लिया। ज्योति व भूपेंद्र की रिश्ते को लेकर दोनों पति-पत्नी में कई बार झगड़ा भी हुआ, लेकिन अजय ने ज्योति के साथ समाधान कर लिया। ज्योति व अजय के तीन साल का बेटा है, जिसका नाम यूवी रखा था। गत पांच अगस्त को युवी को बुखार आया। घर पर दवा देने के बाद भी ठीक हो गया, लेकिन छह अगस्त को पति अजय परमार के अपनी सिलाई की दुकान पर जाते ही ज्योति पुत्र यूवी को लेकर घर से निकली तथा अपने ससुर को बताया कि वह सिविल अस्पताल में बेटे को दिखाने जा रही है। ज्योति युवी को लेकर भूपेंद्र के पास गई, जहां से वे दोनों एक गेस्ट हाउस में चले गए। प्रेमी भूपेंद्र के प्यार में पागल ज्योति ने उसके साथ मिलकर यूवी को दूध में जहर मिला कर दे दिया, जिसके चलते वह बेहोश हो गया। इसके बाद ज्योति से भूपेंद्र ने शारीरिक संबंध बनाए, जब वे ऐसा कर रहे थे, तब युवी जहर के कारण तिल-तिल करके मर रहा था। इसके बाद ज्योति बेटे को लेकर अपने घर आ गई और कमरे में सुला दिया।

ससुर ने जब उसकी तबीयत के बारे में पूछा तो बताया कि वह अचेत है। काफी देर तक जब युवी को होश नहीं आया तो ससुर ने उसे जाकर देखा तथा उपचार के लिए शारदाबेन अस्पताल लेकर आए, जहां उसे आइसीयू में रखा गया। चिकित्सकों ने आठ अगस्त को युवी को मृत घोषित कर दिया। चिकित्सकों ने युवी के पिता को बताया कि बच्चे की मौत जहर के कारण हुई है। बेटे की मौत का असली कारण जानने के लिए अजय ने मेडिकल रिपोर्ट निकलवाई, जिसमें यह पुष्टि हुई कि उसे खाने पीने की वस्तु के साथ जहर दिया गया है। इसका पता चलते ही अजय को पहला शक अपनी पत्नी ज्योति और उसके प्रेमी पर हुआ। इन दोनों के खिलाफ शहर कोटा पुलिस थाने में शिकायत दर्ज कराई। इसके बाद पुलिस तुरंत एक्शन में आई और आरोपित प्रेमी और प्रेमिका को गिरफ्तार कर लिया। 


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.