अहमदाबाद, जागरण संवाददाता। केंद्र सरकार (Central government)  के बाद अब गुजरात सरकार (Gujarat Government) ने भी अपने कर्मचारियों व अधिकारियों के महंगाई भत्ते (DA) में सीधे 11 प्रतिशत की बढ़ोतरी कर दी है। गुजरात के 20 लाख से अधिक कर्मचारी अधिकारी एवं पेंशनर को अब 28 फीसदी महंगाई भत्ता मिलेगा। सरकारी कर्मचारियों (Government Employee) और पेंशनभोगियों का बढ़ा हुआ महंगाई भत्ता 1 जुलाई 2021 से लागू किया गया है। बता दें कि गुजरात के सरकारी कर्मचारियों और पेंशनर्स को मूल वेतन या पेंशन के 17 फीसदी की दर से महंगाई भत्ता दिया जा रहा था। वहीं अब इन कर्मचारियों को कुल 28 फीसदी महंगाई भत्ता मिलेगा।

गुजरात के उपमुख्यमंत्री एवं वित्त मंत्री नितिन भाई पटेल ने राज्य के अधिकारियों कर्मचारियों एवं पेंशनर्स का महंगाई भत्ता बढ़ाने की घोषणा करते हुए कहां की इसका लाभ राज्य के 9 लाख 63129 कर्मचारियों 511129 अधिकारी एवं पंचायत कर्मचारी कथा 450 509 पेंशनर को लाभ होगा। उन्होंने बताया कि केंद्र सरकार मैं अपने कर्मचारियों के महंगाई भत्ते को 17 फ़ीसदी से बढ़ाकर 28 फ़ीसदी कर दिया है उसी के अनुसार गुजरात सरकार के अधिकारियों कर्मचारियों एवं पेंशनर को भी इसका लाभ देते हुए राज्य सरकार ने महंगाई भत्ता 17% से बढ़ाकर फीसदी ही कर दिया है। राज्य सरकार की तिजोरी पर इससे हर माह सीधे 378 करोड़ का अतिरिक्त आर्थिक बोझ पड़ेगा।

बता दें कि केंद्र सरकार ने जुलाई 2020 में महंगाई भत्ते में बढ़ोतरी का इंतजार कर रहे लाखों कर्मचारियों को एक बड़ा तोहफा दिया था। बता दें कि सरकार ने कोरोना महामारी के चलते बीते डेढ़ साल से महंगाई भत्ते (Dearness Allowance)में बढ़ोतरी पर रोक लगा रखी थी। पीएम नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में कैबिनेट कमेटी ने केंद्र सरकार के कर्मचारियों को दिए जाने वाले महंगाई भत्ते और पेंशनभोगियों को दी जाने वाली महंगाई राहत को बढ़ाकर 28 फीसदी कर दिया था।

Edited By: Babita Kashyap