अहमदाबाद, जागरण संवाददाता। राजस्थान के उदयपुर में एक व्यक्ति की हत्या के चलते गुजरात में सुरक्षा एजेंसियों को अलर्ट किया गया है। गृह राज्यमंत्री हर्ष संघवी ने बुधवार को पुलिस महानिदेशक व अन्य आला पुलिस अधिकारियों की आपात बैठक बुलाई तथा अहमदाबाद समेत राज्य में निकलने वाली 180 रथयात्राओं की सुरक्षा व्यवस्था की समीक्षा की।

अमित शाह आएंगे गुजरात

मंगलवार को गुजरात के पड़ोसी राज्य राजस्थान के उदयपुर शहर में दिनदहाड़े कन्हैया लाल नामक युवक की चाकू से गला रेतकर हत्या किए जाने की घटना को देखते हुए गुजरात में सभी सुरक्षा एजेंसियों को अलर्ट रहने को कहा गया है। केंद्रीय गृह व सहकारिता मंत्री अमित शाह भी गुरुवार शाम को दो दिवसीय गुजरात यात्रा पर आएंगे।

गुजरात के गृह राज्यमंत्री ने रथयात्राओं की सुरक्षा व्यवस्था की ली जानकारी

इससे पहले प्रदेश के गृह राज्यमंत्री संघवी ने बुधवार को पुलिस महानिदेशक आशीष भाटिया, सभी रेंज पुलिस महानिरीक्षक, गृह विभाग के अन्य आला अधिकारियों के साथ अहमदाबाद में निकलने वाली भगवान जगन्नाथ की ऐतिहासिक 145वीं रथयात्रा समेत राज्य में निकाली जाने वाली 180 रथयात्राओं की सुरक्षा व्यवस्था की जानकारी ली। एक दिन पहले ही खुद संघवी ने अहमदबााद की रथयात्रा के मार्ग पर फुट पेट्रोलिंग की थी, लेकिन मंगलवार दोपहर उदयपुर में दो मुस्लिम युवकों की ओर से एक युवक की हत्या किए जाने के बाद से राज्य में रथयात्राओं की सुरक्षा को लेकर अलर्ट जारी किया गया है।

संघवी ने जिलों में किए गए सुरक्षा इंतजाम की जिला पुलिस अधीक्षकों से वीडियो कांफ्रेंस के जरिए जानकारी ली। रथयात्रा, केंद्रीय गृहमंत्री शाह की गुजरात यात्रा को देखते हुए राज्य का गृह मंत्रालय पूरी तरह सतर्क हो गया है। शाह शुक्रवार सुबह सपरिवार भगवान जगन्नाथ मंदिर की मंगला आरती में शामिल होंगे। मंदिर ट्रस्टी महेंद्र झा ने इसकी पुष्टि की है। गुरुवार को शाह अहमदाबाद के वासणा में तालाब का शिलान्यास करेंगे, कलोल स्वामीनारायण मंदिर के समारोह में शामिल होंगे तथा गांधीनगर के रुपाल में जनसभा को संबोधित करेंगे। यहां शाह को चांदी से तोला जाएगा।

संघवी ने कहा कि अहमदाबाद की रथयात्रा कौमी एकता की मिसाल है तथा हिंदू व मुस्लिम समाज के लोग मिलकर उत्साह पूर्वक रथयात्रा में शामिल होते हैं। गांधीनगर में अपने सरकारी आवास पर बुलाई गई। इस बैठक में संघवी ने रथयात्राओं की सुरक्षा के लिए किए गए हाईटेक इंतजाम के बारे में भी जानकारी ली। हेलीकाप्टर, सीसीटीवी कैमरे, ड्रान, बाडीवार्न कैमरों के अलावा ह्यूमन इंटेलीजेंस का भी सुरक्षा के लिए उपयोग किया जाएगा। संवेदनशील पुलिस थानों में रात्रि गश्त बढ़ाने के साथ रथयात्रा के मार्ग पर अर्द्धसैनिक बलों का फ्लैग मार्च भी किया जाएगा।

Edited By: Sachin Kumar Mishra