अहमदाबाद। कोरोना वायरस की महामारी के बीच गुजरात के लोग और एक मुश्किल में फंस गये है। प्रदेश के अहमदाबाद, मेहसाणा सहित शहरों में दिन भर बादल छाये वातावरण के बाद देर रात अचानक मूसलाधार बारिश होने से लोगों में कोरोना वायरस का संक्रमण फैलने का डर सता रहा है। वहीं लोकडाउन की वजह से पैदल अपने वतन जा रहे लोगों की हालत भी इस बारिश ने पतली कर दी है। मौसम विभाग ने आगामी 48 घंटो में प्रदेश छिटपुट बारिश की आगाही की है।

प्रदेश के अहमदाबाद शहर में गुरुवार को पूरे दिनभर बादल छाये रहे वातावरण में देर रात एका-एक बिजली के कड़ाके के साथ भारी बारिश होने लगी। करीब आधे घंटे तक भारी बारिश होने से जलभराव की स्थिति पैदा हो गई । लोकडाउन के ऐसे वक्त में लोगों कोरोना वायरस का डर है वहीं अब बारिश होने से लोग इसके फैलाव के डर से लोग सहम गये है। वहीं किसानो को अपनी फसल बरबाद होने की चिंता सता रही है।

मौसम विभाग के अहमदाबाद इकाई के निदेशक जंयत सरकार ने बताया कि अरब सागर मे पैदा हुए कम दबाव के चलते राज्य के कई शहरों में बारिश हुई है। उत्तरगुजरात , मध्यगुजरात के कई शहरों व कस्बों में गुरुवार को अच्छी बारिश हुई है। वहीं अहमदाबाद शहर में देर रात एका-एक बिजली के कड़ाके के साथ जमकर बारिश हुई है। अहमदाबाद के सरखेज, सेटेलाइट, वेजलपुर, घाटलोडिया, बोपल सनाथल, शांतिपुरा, मोटेरा, चांदखेड़ा, न्यूराणीप, जीवराज पार्क, थलतेज और सरदारनगर सहित कई इलाकों मे तेज बारिश हुई है।

मौसम विभाग के मुताबिक मध्यगुजरात, उत्तरगुजरा और दक्षिण गुजरात में अगले 48 घंटों में भारी बारिश हो सकती है। गजरात में कोरोना वायरस के अभी तक 44 मामले दर्ज हुए जबकि इस वायरस मे 3 लोगों की मौत हो चुकी है। कोरोना वायरस की महामारी के बीच बारिश होने लोगों से  अन्य बरसाती बीमारियों का भी डर सताने लगा हैं। किसानों की भी नीद हराम हो गई है। 

Posted By: Preeti jha

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस