अहमदाबाद, जेएनएन। गुजरात के पुलिसकर्मियों के टिकटॉक वीडियो सामने आने के बाद पुलिस महानिदेशक शिवानंद झा ने एक आदेश जारी कर पुलिसकर्मियों के सोशियल मीडिया पर एक्टिव होने को लेकर एक दिशा-निर्देश जारी किया है।

गुजरात के पुलिस महानिदेशक ने बताया कि पुलिसकर्मियों के इस प्रकार के वीडियो वारयल होने से पुलिस डिपार्टमेंट की बदनामी हो रही है। पुलिसकर्मियों को अनुशासन में रहकर ही सोशल मीडिया का उपयोग करना चाहिए। अगर कोई भी पुलिसकर्मी इस अनुशासन को तोड़ता है तो उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

पुलिस महानिदेशक ने दिशा-निर्देश में सभी पुलिस आयुक्त, रेंज आईजी व पुलिस उपाधीक्षक सहित पुलिस के उच्च अधिकारियों को सूचना दी है कि अगर टिकटॉक या सोशियल मीडिया पर किसी भी पुलिसकर्मी के अनुशासन के खिलाफ वीडियों वायरल होते है तो उसके खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाए।

गौरतलब है कि पिछले कुछ दिनों से गुजरात पुलिस में टिकटॉक बनाने का जादू छाया है। इसके चलते एक महिला पुलिसकर्मी सहित तीन पुलिसकर्मियों को सस्पेंड कर दिया गया है, जबकि एक पुलिसकर्मी का तबादला कर दिया गया है।

गुजरात पुलिस के मुताबिक, सस्पेंडेट पुलिसकर्मियों ने ड्यूटी के दौरान टिकटॉक वीडियो बनाया है, जो पुलिस के अनुशासन का उल्लघंन है। इसकी वजह से तीन पुलिसकर्मियों के सस्पेंड होने के बाद अन्य पुलिसकर्मियों के टिकटॉक पर अलग-अलग स्टाइन में वीडियो वायरल हो रहे हैं।

यह भी पढ़ेंः गुजरात में टिकटॉक वीडियो बनाने पर दो सिपाही निलंबित

 

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Sachin Mishra

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप