अहमदाबाद, जागरण संवाददाता। कांग्रेस छोड़कर जाने वाले पाटीदार नेता हार्दिक पटेल (Hardik Patel) पर गुजरात कांग्रेस (Gujarat congress) की ओर से विधायक जिग्नेश मेवाणी (Jignesh Mevani) ने पलटवार किया है। जिग्नेश ने कहा विचारधारा वस्त्र नहीं है, विचारधारा धमनी में बहते खून जैसी होती है। गुजरात प्रदेश कांग्रेस कार्यालय पर पत्रकार वार्ता के दौरान जिग्नेश ने कहा की कांग्रेस का नेतृत्व कार्यकर्ता के साथ आधी रात को भी खड़ा रहा है, और इसका सबसे बड़ा उदाहरण वे खुद हैं, असम व गुजरात सरकार (Gujarat Government) की शह पर उन पर केस दर्ज हुआ और उन्हें गिरफ्तार कर असम ले जाया गया तब राहुल गांधी (Rahul Gandhi) को मेरे साथियों ने आधी रात को उठाकर इस मुद्दे पर चर्चा की।

केंद्र व गुजरात सरकार ने आरक्षण देकर कोई अहसान नहीं किया। पाटीदार समाज ने 14 युवकों को खोया और समाज की बहन बेटियों पर अत्याचार हुआ उसके बाद ये आरक्षण की घोषणा हुई। हार्दिक पर कानूनी दबाव हो सकता है। इसलिए वह कांग्रेस और उसके नेतृत्व पर बिलो द बेल्ट हमला कर रहे हैं उन्हें ऐसा नहीं करना चाहिए। गरिमापूर्ण तरीके से पार्टी छोड़नी चाहिए। कांग्रेस ने आजादी आंदोलन चलाकर देश को आजाद कराया तथा अब 'भारत जोड़ो अभियान' चलाकर देश की एकता को मजबूत करेगी। हार्दिक पार्टी छोड़ने के बाद उद्योगपति अदाणी, अंबानी के समर्थन में उतर आए, कांग्रेस ने कम उम्र में हार्दिक को सम्मान पूर्वक सब कुछ दिया और पार्टी में एक स्थान उपलब्ध कराया। किसी मामूली मतभेद को लेकर पार्टी नेतृत्व के खिलाफ अभद्र भाषा का उपयोग करेंगे ऐसी उम्मीद नहीं थी। कांग्रेस को छोड़कर जाने वालों में पूर्व विधायक अल्पेश ठाकोर भी हैं लेकिन उन्होंने कभी ऐसी बातें नहीं की।

Edited By: Babita Kashyap