Move to Jagran APP

Gujarat: धंधुुका में युवक की हत्या के बाद राधनपुर में युवती पर हमला, हजारों लोग सड़क पर उतरे

Gujarat धंधुका में युवक की हत्या की स्याही अभी सूखी भी नहीं थी कि यासीन मजीशा नामक युवक ने उत्तर गुजरात में शेरगढ़ के राधनपुर में एक चौधरी समुदाय की लड़की पर हमला कर दिया। घटना से उत्तेजित चौधरी भरवाड व ठाकोर समाज के हजारों लोग सड़कों पर उतर आए।

By Sachin Kumar MishraEdited By: Published: Sat, 29 Jan 2022 09:31 PM (IST)Updated: Sat, 29 Jan 2022 09:43 PM (IST)
गुजरात के धंधुका में युवक की हत्या के बाद राधनपुर में युवती पर हमला। फाइल फोटो

अहमदाबाद, जागरण संवाददाता। गुजरात के धंधुका में युवक की हत्या की स्याही अभी सूखी भी नहीं थी कि यासीन मजीशा नामक युवक ने उत्तर गुजरात में शेरगढ़ के राधनपुर में एक चौधरी समुदाय की लड़की पर हमला कर दिया। घटना से उत्तेजित चौधरी, भरवाड व ठाकोर समाज के हजारों लोग शनिवार को सड़कों पर उतर आए। पाटण के पुलिस अधीक्षक अक्षयराज मकवाणा ने बताया कि आरोपित यासीन मजीशा बलोच व पीडित युवती करीब दो साल से संपर्क में थे। पैसों की लेन देने को लेकर दोनों में तकरार हुई, इससे नाराज यासीन ने बीते गुरुवार को उसके घर में घुसकर हमला कर दिया। मेडिकल रिपोर्ट के अनुसार, युवती कांच का टुकड़ा लगने के कारण जख्मी हो गई थी, उपचार के लिए उसे अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा।

loksabha election banner

हजारों लोगों ने जताया रोष

पुलिस इस मामले को प्रेम प्रसंग से भी जोड़कर देख रही है। इस घटना को लेकर गुजरात के पूर्व मंत्री शंकर भाई चौधरी, भाजपा विधायक शशिकांत पंड्या, पूर्व विधायक लविंग ठाकोर, बनासकांठा बैंक के अध्यक्ष अंदाभाई पटेल की अगुवाई में शनिवार को शेरगढ के राधनपुर में हजारों लोग एकत्र हुए तथा जिला प्रशासन को एक ज्ञापन सौंपा। प्रशासन ने उन्हें रैली की मंजूरी नहीं दी। जिसके चलते आदर्श विद्यालय के मैदान में उन्होंने सभा का आयोजन कर इस घटना के प्रति गहरा रोष जताया।

धंधुका मामले के दिल्ली के मौलवी से जुड़े हैं तार

गुजरात के धंधुका कस्बे में एक युवक की हत्या की साजिश के तार दिल्ली के एक मौलवी से भी जुडे़ हैं। अहमदाबाद के मौलवी ने हत्यारों को रिवाल्वर व पांच कारतूस उपलब्ध कराए थे। गृह राज्यमंत्री हर्ष संघवी ने इसे एक गहरी साजिश बताया है। संघवी शुक्रवार को धंधुका पहुंचे और मृत युवक किशन भरवाड की 20 दिन की बेटी को गोद में लेकर पीडि़त परिवार को न्याय दिलाने का वचन दिया। अपराध शाखा को जांच में पता चला है कि अहमदाबाद के एक मौलवी ने हत्या के दोनों आरोपित शब्बीर उर्फ साबा दादाभाई और इम्तियाज पठान को एक रिवाल्वर और पांच कारतूस उपलब्ध कराए थे। दिल्ली के एक मौलवी के तार भी इस हत्याकांड से जुड़ते नजर आ रहे हैं। करीब नौ महीने पहले हत्यारे इस मौलवी से मिले थे और माना जा रहा है कि उसने हत्या के लिए उन्हें उकसाया। पुलिस ने अहमदाबाद की मखदूमशाब बावा की दरगाह के मौलवी अयूब और दोनों हमलावरों को गिरफ्तार कर लिया है। हमलावर भी धंधुका के ही हैं। मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल और प्रदेश भाजपा अध्यक्ष सीआर पाटिल के निर्देश पर संघवी ने स्पेशल आपरेशन ग्रुप, लोकल क्राइम ब्रांच, एटीएस और एसीबी की टीमों को जांच सौंपी है। किशन ने इंटरनेट मीडिया पर एक वीडियो पोस्ट किया था, जिसमें मुस्लिम समाज को लेकर विवादित बातों का उल्लेख था। गुरुवार को धंधूका व राणपुर गांव बंद के दौरान हुए अंतिम संस्कार में हजारों की संख्या में लोग शामिल हुए। पुलिस अधीक्षक ग्रामीण वीरेंद्र सिंह यादव ने बताया कि हत्यारा शब्बीर कट्टरपंथी विचारधारा रखता है। उस पर पहले से ही लूट का केस दर्ज है।


Jagran.com अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरेंWhatsApp चैनल से जुड़ें
This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.