अहमदाबाद, जेएनएन। पूरी दुनिया काल बनकर आए कोविड 19 वायरस से जूझ रही है लेकिन गुजरात की पौने दो सौ कोरोना संक्रमित महिलाएं ऐसी हैं जो अपनी कोख में पल रहे शिशु इस महामारी से बचाने की जद्दोजहद कर रही हैं। मुख्‍यमंत्री विजय रुपाणी ने महामारी के शुरुआत में ही राज्‍य की गर्भवती महिलाओं का कोरोना टेस्‍ट अनिवार्य कर दिया था, राज्‍य में अब तक 171 गर्भवती महिलाएं कोरोना संक्रमित पाई गई हैं। स्वास्थ्य और परिवार कल्याण विभाग की अतिरिक्त निदेशक डॉ नीलम पटेल बताती हैं कि गुजरात में 171 गर्भवती महिलाएं कोविड 19 वायरस संक्रमित हैं इनमें से अकेले अहमदाबाद में 80 सगर्भा महिलाएं अहमदाबाद की हैं।

 संक्रमित गर्भवती महिलाओं में से अब तक 54 महिलाओं की सफल प्रसूति हो गई जबकि दो महिलाओं की मौत हो गई।  डॉ. नीलम ने बताया कि  गर्भवती महिलाओं को कोरोना संक्रमण के खतरे को देखते हुए सरकार ने एक निर्देशिका तैयार की है। इसके तहत कंटेनमेंट जोन की सगर्भा महिला की डिलीवरी से 5 दिन पहले कोरोना टेस्‍ट जरुरी है। प्रशासन की ओर से घर घर जाकर गर्भवती महिलाओं के सेम्‍पल लिए जा रहे हैं।

एलजी व शारदा बेन अस्पताल में सबसे अधिक संक्रमित

महानगर पालिका संचालित शारदा बेन अस्पताल में 26 गर्भवती महिलाओं में से 23 की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आयी थी। मनपा संचालित दूसरे हॉस्‍पीटल एलजी अस्‍पताल में हर दस गर्भवती में से की रिपोर्ट पॉजिटिव आ रही हैं। सभी सगर्भा महिलाओं को उपचार के लिए सिविल अस्पताल व एसवीपी अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

गुजरात में कोरोना संक्रमितों की संख्या 12910 हो गई है और इस बीमारी से अब तक 773 लोगों की मौत हो चुकी है। अकेले अहमदाबाद में 9449 मामले सामने आये है और 619 की मौत हो चुकी है। अहमदाबाद के बाद सूरत में सबसे अधिक 1227 संक्रमित हैं जबकि वडोदरा में इनकी संख्‍या 750 है। कोरोना से इन शहरों में मरने वालों का आंकड़ा क्रमश 57 व 32 है। 

LIVE Coronavirus Odisha Update: यहां तेजी से बढ़ रहा है कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा, 86 नये मरीजों की पुष्टि

 

Posted By: Babita kashyap

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस