अहमदाबाद, जागरण संवाददाता। कनाडा से अमेरिका में गैरकानूनी तरीके से प्रवेश की कोशिश में बर्फबारी में फंसकर मारे गये गुजरात के एक पटेल परिवार के चार सदस्यों की मौत की अधिकारिक पुष्टि कर दी गई है। कनाडा पुलिस ने भारतीय दूतावास को यह जानकारी उपलब्ध कराई है। पीड़ित परिवार ने शवों को भारत नहीं लाकर कनाडा में ही अंतिम संस्कार का फैसला किया है।

कनाडा में ही होगा शवों का अंतिम संस्‍कार 

कनाडा पुलिस ने कनाडा-अमेरिकी सीमा पर गत 19 जनवरी को मारे गये गुजरात के एक पटेल परिवार के चार सदस्यों की मौत की पुष्टि कर दी है। मेडिकल जांच के बाद उन्होंने इसकी रिपोर्ट भारतीय दूतावास को सौंपी। मृतक जगदीश के पिता जसवंत पटेल ने बताया कि शवों को अंतिम संस्कार कनाडा में ही किया जाएगा।

दस्तावेज मिलने का इंतजार

अपराध शाखा के डीजीपी अनिल प्रथम ने बताया कि गुजरात से सात लोग कनाडा के लिए रवाना हुए थे, 12 जनवरी को वे टोरंटो पहुंचे। इनमें से एक फर्जी स्टूडेंट वीजा पर गया था। पुलिस ट्रेवल एजेंट से पूछताछ कर रही है। एजेंट की भूमिका तथा इस परिवार के अमेरिकी सीमा तक जाने के मामले की जांच चल रही है। डीजीपी क्राइम का कहना है कि दूतावास से अभी इस मामले के दस्तावेज मिलने का इंतजार किया जा रहा है।

गौरतलब है कि गांधीनगर जिले की कलोल तहसील के नवा डींगुचा गांव के जगदीश पटेल [35] पत्नी वैशाली [33], पुत्री विहांगी [13] तथा पुत्र धार्मिक [3] के साथ कनाडा गये थे। अवैध तरीके से सीमा पार कर अमेरिका में प्रवेश करते समय यह परिवार बर्फबारी का शिकार हो गया तथा माइनस 35 डिग्री की ठंड के चलते उनकी मौत हो गई थी।

अवैध तरीके से अमेरिका में प्रवेश करने से पहले ही बर्फबारी में फंसा गुजराती परिवार, चार की मौत

अवैध तरीके से अमेरिका में प्रवेश करने के दौरान हुई मौत मामले में जांच के लिए कनाडा पहुंची गुजरात की टीम

Edited By: Babita Kashyap