मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

अहमदाबाद, जेएनएन। गुजरात के युवा खेल व सेना में अपनी भागीदार बढ़ाएं, राज्य में रेल, रक्षा, खेल विश्वविद्यालय भी स्थापित हैं। भारत में अब कोई गरीब व बेकार नहीं रहे ऐसा स्वराज स्थापित करना है। मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने युवा सम्मेलन में यह बात कही। 

73वें स्वतंत्रता दिवस से पहले छोटा उदयपुर के बोडेली में आयोजित युवा सम्मेलन में मुख्यमंत्री रुपाणी ने कहा कि भारत को मुगलों ने अपने राज में खूब लूटा खसोटा। इसके बाद भारत अंग्रेजों का गुलाम रहा, अंग्रेज सल्तनत ने प्रजा पर अत्याचार किए और धन दौलत लूटकर ले गए। देश को आजाद कराने के लिए कई महान लोगों ने संघर्ष किया, हजारों युवाओं ने जान की कुर्बानी दी। वीर सावरकर ने कई साल तक अंडमान निकोबार में काला पानी की सजा काटी, सावरकर से जब अंग्रेज अफसर ने उनकी इच्छा जाननी चाही तो उन्‍होंने पूरे विश्वास के साथ कहा कि मैं वापस लौटकर आऊंगा और भारत माता को अंग्रेजों के चंगुल से मुक्त करकर रहूंगा। महात्मा गांधी, सरदार पटेल, गोपाल कृष्ण गोखले, बाल गंगाधर तिलक, लाला लाजपत राय, सुभाष चंद्र बोस, खुदी राम बोस जैसे महान सैनानियों ने भारत माता की आजादी की लड़ाई लड़ी और देश को स्वतंत्रता दिलायी। 

मुख्यमंत्री ने धारा 370 का जिक्र करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व गृहमंत्री अमित शाह ने अपनी राजनीतिक कुशलता से कश्मीर को नई आजादी दिलायी। देश में स्वराज तो आया लेकिन ये दोनों नेता देश को सुराज की पटरी पर ले आए हैं। रुपाणी ने कहा कि भारत माता अब दुर्गा मां की तरह शक्तिशाली व वैभवशाली होगी जिसमें कोई गरीब नहीं रहेगा तथा ना ही कोई युवा बेकार होगा। गुजरात में पहले 10 विश्वविद्यालय थे लेकिन अब 60 विश्वविद्यालय चल रहे हैं जिसमें हजारों युवा अपना भाग्य संवार रहे हैं। सरकार ने रेल, खेल व रक्षा विश्वविद्यालय की स्थापना कर युवाओं को हर क्षेत्र में आगे बढऩे के  लिए प्रेरित किया है। रुपाणी ने कहा सरकार युवाओं के कौशल विकास व खेल महाकुंभ पर करोड़ों रुपये खर्च करती है। 

नेहरु को भूल गए रुपाणी 

स्वतंत्रा संग्राम व आजादी के सिपाहियों के नाम लेते हुए मुख्यमंत्री विजय रुपाणी महात्मा गांधी, सरदार पटेल, वीर सावकर, खुदी राम बोस आदि का नाम लिया लेकिन वे देश के प्रथम प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरु को भूल गए। साबरमती आश्रम की एक विश्व प्रसिद्व फोटो में गांधी नेहरु व सरदार को आपस में चर्चा करते नजर आते हैं, लेकिन रुपाणी ने अपने भाषण में नेहरु का जिक्र तक नहीं किया। 

तो जूनागढ़ के लिए भी वीजा लेना पड़ता 

गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी राज्य में भाषण कर रहे हों और यहीं के किसी जिले में वीजा लेकर जाने की चर्चा करें तो युवाओं का चौंकना वाजिब है। रुपाणी ने कहा लौहपुरुष सरदार पटेल ने देश के 565 रजवाडों का एकीककरण कर आधुनिक भारत का निर्माण किया। अंग्रेजों की शहर पर जूनागढ़ व हैदराबाद के नवाब पाकिस्तान में शामिल होना चाहते थे लेकिन सरदार ने अपनी सूझबूझ से उन्हें भारत में शामिल कर लिया अन्यथा जूनागढ में भी वीजा लेकर जाना पड़ता। 

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Babita kashyap

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप