Move to Jagran APP

Bageshwar Dham: कथावाचक धीरेंद्र शास्‍त्री पहुंचे गुजरात, बोले- अब मथुरा में श्रीकृष्‍ण को करना है व‍िराजमान

हिंदुओं से एक होने का आह्वान करते हुए पं धीरेंद्र शास्‍त्री बोले कि जात-पात तोड़ो हम सब हिंदू एक हैं यह मुख से बोलो। सनातन धर्म के लिए खड़े हो जाओ खड़े नहीं हो सकते तो उनका साथ दो जो इसके लिए लड़ रहे हैं।

By Jagran NewsEdited By: Vinay SaxenaPublished: Thu, 25 May 2023 08:36 PM (IST)Updated: Thu, 25 May 2023 08:36 PM (IST)
धीरेंद्र शास्‍त्री ने कहा- अब भी नहीं जागे तो आने वाली पीढ़ियां जवाब मांगेंगी।

अहमदाबाद, राज्‍य ब्‍यूरो। बाबा बागेश्‍वर धाम के कथावाचक धीरेंद्र शास्‍त्री ने कहा है कि भारत में संत व सनातन धर्म का विरोध अब बर्दाश्‍त नहीं किया जाएगा। अयोध्‍या में भगवान राम विराजमान हो गये हैं, अब मथुरा में भगवान कृष्‍ण को विराजमान करना है। शास्‍त्री ने भारत को हिंदू राष्‍ट्र बनाने का आह्वान करते हुए कहा कि अब भागने का नहीं, सनातनियों के जागने का वक्‍त है, अब भी नहीं जागे और कायर बनकर घर में बैठ गये तो आने वाली पीढ़ियां जवाब मांगेंगी।

'अब भी नहीं जागे तो फि‍र...'

बाबा बागेश्वर धाम के दिव्‍य दरबार को लेकर गुजरात में विवादों के बीच कथावाचक पंडित धीरेंद्र कृष्‍ण शास्‍त्री गुरुवार को अहमदाबाद हवाई अड्डा पर पहुंचे, जहां भारी संख्‍या में लोगों ने उनका स्‍वागत किया। कथावाचक देवकीनंदन ठाकुर की शिवमहापुराण कथा के अंतिम दिन शास्‍त्री ने यहां हजारों की संख्या में मौजूद महिला व पुरुषों से कहा कि सनातन धर्म की स्‍थापना के लिए हमें जागना पड़ेगा, अब भी नहीं जागे तो फि‍र रामकथा नहीं होगी, भगवत चर्चा नहीं होगी और मंदिर भी नहीं जा सकेंगे।

'भारत में अब सनातन धर्म का व‍िरोध सहन नहीं क‍िया जाएगा'

उन्‍होंने कहा कि भारत में अब संतों व सनातन धर्म का विरोध सहन नहीं किया जाएगा, उनकी ठठरी बांध दी जाएगी। उन्‍होंने कहा अयोध्‍या में भगवान राम विराजमान हो गये अब मथुरा में भगवान कृष्ण को विराजमान करना है, सीढ़ियों के नीचे दबे भगवान कृष्‍ण का अपमान कब तक सहन करते रहेंगे। उन्‍होंने कहा कि उनकी गुजरात यात्रा को लेकर यहां माहौल काफी गरम है, लोग कितना ही विरोध करें वे सनातन धर्म के लोगों को जगाने का काम करते रहेंगे।

हिंदुओं से एक होने का क‍िया आह्वान

हिंदुओं से एक होने का आह्वान करते हुए पं धीरेंद्र शास्‍त्री बोले कि जात-पात तोड़ो, हम सब हिंदू एक हैं, यह मुख से बोलो। सनातन धर्म के लिए खड़े हो जाओ, खड़े नहीं हो सकते तो उनका साथ दो जो इसके लिए लड़ रहे हैं। आज नहीं जागे तो आने वाले समय में सनातन धर्म की रक्षा मुश्किल हो जाएगी। उन्‍होंने जगह-जगह खुदाई की मांग के एक सवाल का संदर्भ देते हुए कहा कि जब तक खुदाई है, सनातन धर्म विरोधियों को बाहर नहीं कर देते खुदाई का काम चलता रहेगा।

देवकीनंदन ठाकुर ने क्‍या कहा?

कथावाचक देवकीनंदन ठाकुर ने कहा कि औरंगजेब ने भगवान कृष्‍ण की प्रतिमाओं को तोड़कर जामा मस्जिद की सीढ़ियों के नीचे दबा दिया था, लोग उस पर से होकर गुजरते हैं, इससे भगवान का रोज अपमान हो रहा है। ठाकुर ने कहा कि वे धीरेंद्र शास्‍त्री के साथ मिलकर यह प्रतिमाएं सीढ़ियों से बाहर निकला कर पुन: स्‍थापित करने का अभियान चला रखा है, इसमें आम लोग भी साथ दें। यह लड़ाई हम दोनों की ही नहीं हर सनातनी की है और हर उस व्‍यक्ति की है, जिसने सनातनी मां का दूध पि‍या है। जाति, पंथ, मजहब व पार्टी से ऊपर उठकर हमें भगवान कृष्‍ण को अपमान से मुक्‍त कराने के लिए आगे आना है।

दो द‍िन सूरत में होगा कार्यक्रम

धीरेंद्र शास्‍त्री शाम को सूरत पहुंच गये, जहां दो दिन का कार्यक्रम होगा। उसके बाद राजकोट, अहमदाबाद, वडोदरा व गांधीनगर में भी उनके दरबार लगेंगे। दरबार के विरोध में उच्‍च न्‍यायालय में याचिका दाखिल कर सामाजिक समरसता विरोधी बयानबाजी पर रोक की मांग को लेकर हाईकोर्ट में तुरंत सुनवाई के लिए एक याचिका लगाकर तुरंत सुनवाई की मांग भी की गई, लेकिन न्‍यायालय ने इससे इनकार कर दिया।


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.