मैनचेस्टर, एएफपी। इंग्लिश प्रीमियर लीग (ईपीएल) में अपने पहले सत्र में प्रभावहीन प्रदर्शन के बाद मैनचेस्टर सिटी के रियाद महारेज ने अच्छी वापसी की है। उन्हीं की बदौलत मौजूदा चैंपियन सिटी खिताब की दौड़ में सबसे आगे चल रहे लिवरपूल पर दबाव बनाने में कारगर साबित हुआ है।

ईपीएल में रविवार को मैनेजर पेप गॉर्डियोला की टीम सिटी वोल्वरहैंप्टन के खिलाफ अपने चोटिल स्टार केविन डि ब्रूने के बगैर उतरेगी लेकिन अल्जीरिया के स्ट्राइकर महारेज सिटी की उम्मीदों का भार अपने कंधों पर उठाने के लिए तैयार हैं। लीसेस्टर सिटी से आने के बाद एतिहाद में महारेज के लिए शुरुआती कुछ महीने बेहद खराब रहे थे। उन्हें 2016 में लीसेस्टर के लिए खेलते समय साल का सर्वश्रेष्ठ पीएफए प्लेयर चुना गया था लेकिन सिटी के लिए उनका प्रदर्शन शुरुआती दिनों में कुछ खास नहीं रहा।

इसके लिए रहीम स्टर्लिग और बेनार्डो सिल्वा को उन्होंने जिम्मेदार माना था क्योंकि उनकी वजह से महारेज को खेलने के ज्यादा मौके नहीं मिल पा रहे थे। हालांकि पिछले सत्र में ब्रिज्टन के खिलाफ एक अहम मुकाबले में महारेज ने गोल करके सिटी को खिताबी जीत दिलाने में अहम भूमिका निभाई थी। उसके बाद उन्होंने पीछे मुड़कर नहीं देखा। अफ्रीका कप ऑफ नेशंस में भी उन्होंने अपने शानदार प्रदर्शन के दौर को आगे बढ़ाया। महारेज सिटी द्वारा सभी प्रतियोगिताओं में खेले गए कुल 11 में से 10 मुकाबलों में उतरे हैं और तीन गोल दागे हैं। इसमें एवर्टन के खिलाफ फ्री किक पर दागा गया उनका शानदार गोल भी शामिल है।

युनाइटेड के सामने न्यूकैसल : ईपीएल में रविवार को मैनचेस्टर युनाइटेड की टीम न्यूकैसल युनाइटेड से उसके घर में भिड़ेगी। युनाइटेड के मैनेजर ओले गनर सोल्सकजेर ने स्वीकार किया है कि संघर्ष कर रही उनकी टीम वापसी करने की कोशिश में जुटी हुई है। हालांकि न्यूकैसल के खिलाफ होने वाले मुकाबले से युनाइटेड के अवे मुकाबलों में चला आ रहा जीत का सूखा खत्म हो सकता है क्योंकि न्यूकैसल की हालत युनाइटेड से भी पतली है। युनाइटेड पिछले 10 अवे मुकाबलों से जीत नहीं दर्ज कर पाया है।

इटली की टीम में निकोलो की वापसी

पेरिस : रोमा के स्टार मिडफील्डर निकोलो जानिओलो की इटली की राष्ट्रीय टीम में वापसी हुई है। कोच रॉबर्टो मांसिनी ने 2020 यूरो कप क्वालीफायर में ग्रीस और लिचटेंस्टीन के खिलाफ होने वाले मुकाबलों के लिए इटली की टीम घोषित की। मांसिनी ने 20 वर्षीय निकोलो को ग्रुप-जे में अर्मेनिया और फिनलैंड के खिलाफ पिछले महीने खेले गए मुकाबलों से टीम से बाहर रखा था। टीम में बोका जूनियर्स के मिडफील्डर डेनियल डि रोसी को जगह नहीं मिल पाई है।

प्लाटिनी को मिली फुटबॉल में वापसी की आजादी

लुसाने : यूएफा के पूर्व अध्यक्ष माइकल प्लाटिनी को फुटबॉल में अगले सप्ताह से वापसी की आजादी मिल गई है लेकिन उनके खिलाफ भ्रष्टाचार की जांच जारी रहेगी। प्लाटिनी पर लगा चार साल का प्रतिबंध अगले सप्ताह समाप्त होने जा रहा है। प्लाटिनी 2007 में यूरोपियन फुटबॉल की शीर्ष संस्था यूएफा के अध्यक्ष बने थे। उन पर घूस लेने के आरोप में प्रतिबंध लगाया गया था।

Posted By: Sanjay Savern

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप