रोम, आइएएनएस। स्पेन के फुटबॉल क्लब बार्सिलोना के स्टार खिलाड़ी लियोन मेसी के क्लब से जाने और इटली सीरी-ए के क्लब इंटर मिलान जाने की चर्चाएं जोरों पर हैं। एक रिपोर्ट के मुताबिक, इंटर मिलान के मालिक मेसी के साथ चार साल का करार करने के इच्छुक हैं और इसके लिए वह मेसी को 50 मिलियन यूरो (करीब 442 करोड़ रुपये) हर साल देने को तैयार हैं। अगर इंटर मिलान का प्लान काम कर जाता है तो मेसी अपने प्रतिद्वंद्वी क्रिस्टियानो रोनाल्डो से ज्यादा कमाई करेंगे। रोनाल्डो को सीरी-ए चैंपियन जुवेंटस से 31 मिलियन यूरो (करीब 274 करोड़ रुपये) हर साल मिलते हैं।

पीएसजी ने ल्योन को पेनाल्टी शूटआउट में हराकर जीता कूप डि ला लीग खिताब जीता खिताब

पेरिस, एएनआइ। पेरिस सेंट जर्मेन (पीएसजी) ने शुक्रवार देर रात को हुए फाइनल मुकाबले में ल्योन को पेनाल्टी शूटआउट में 6-5 से हराकर नौवां कूप डि ला लीग खिताब अपने नाम किया। इससे पहले ही पीएसजी की टीम फ्रेंच कप की विजेता बनी थी। ल्योन के खिलाफ इस जीत से पीएसजी ने पिछले आठ साल में सातवीं बार यह विजेता ट्रॉफी अपने नाम की। 119वें मिनट में ल्योन के राफेल को रेड कार्ड के चलते मैच से बाहर कर दिया गया और टीम को शेष मैच 10 खिलाडि़यों के साथ खेलना पड़ा।

निर्धारित समय तक दोनों टीमें कोई गोल नहीं कर पाईं। उसके बाद मैच अतिरिक्त समय में गया और वहां दोनों टीमें गोल करने में असमर्थ रहीं। इसके बाद मैच का नतीजा निकालने के लिए पेनाल्टी शूटआउट का सहारा लिया गया, जहां पीएसजी की टीम ने बाजी मार ली। एक समय पेनाल्टी पर नेमार के गोल करने के बाद स्कोर 5-5 से बराबर था, लेकिन इसके बाद ल्योन के हाउसेम ऑयर पेनाल्टी को गोल में बदलने से चूक गए और फिर पीएसजी के पाब्लो सराबिया ने गोल कर मैच टीम को खिताब दिला दिया।

सफल स्ट्राइकर होने के लिए छठी इंद्री का होना जरूरी: भूटिया

नई दिल्ली, प्रेट्र। महान भारतीय फुटबॉलर बाइचुंग भूटिया ने कहा कि सभी स्ट्राइकरों को नियमित रूप से गोल करने के सही मौके तलाशने के लिए छठी इंद्री को विकसित करना होगा। भूटिया ने कहा कि स्ट्राइकर तभी सफल हो सकता है जब वह गोल करने के मौके को सही तरीके से परख सके। भारत के लिए 100 मैच खेलने वाले पहले खिलाड़ी बनने वाले भूटिया ने कहा, 'यह उस छठी इंद्री के बारे में है। आपको यह पता करने की जरूरत है कि मौका कहां से बन रहा है। दुनिया के सबसे अच्छे स्ट्राइकरों में यह समझदारी हैं। आपको स्थितियों को पढ़ने आना चाहिए। जब तक आप अपनी छठी इंद्री विकसित नहीं करते, आप एक सफल स्ट्राइकर नहीं होंगे।' भूटिया ने कहा, 'आप 10 मौके में से एक या दो बार ही गोल करने में सफल होते है ऐसे में आपको जो भी मौका मिले उसमें पूरा जोर लगाना होता है।' 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस