बर्लिन, रायटर। जर्मनी की फुटबॉल टीम एक बार फिर अपने रुतबे को हासिल करने के प्रयास में आगामी गुरुवार (छह सितंबर) से शुरू हो रहे पहले नेशनल्स लीग के शुरुआती मुकाबले में मौजूदा विश्व चैंपियन फ्रांस से भिड़ेगी।

नेशनल्स लीग का आयोजन यूरोप फुटबॉल की शीर्ष संस्था यूएफा कर रही है जिसके शुरुआती चरण के मुकाबले अक्टूबर से नवंबर के बीच खेले जाएंगे। हर दो साल में इस लीग को आयोजित किया जाएगा जिसमें यूरोप की 55 राष्ट्रीय टीमें भाग लेंगी। इन सभी टीमों को चार वर्गो में बांटा गया है जोकि अपने ग्रुप में एक-दूसरे से भिड़ेंगी। इस टूर्नामेंट की सफलता पर इसके जटिल प्रारूप की वजह से संदेह बना हुआ है लेकिन इस साल जनवरी में कोचों ने इस टूर्नामेंट की सराहना की जहां अगले दौर में पहुंचने वाली टीमों को आर्थिक फायदा मिलेगा।

2014 की विश्व चैंपियन जर्मनी की टीम रूस विश्व कप के शुरुआती दौर से ही हारकर बाहर हो गई थी। हालांकि इसके बावजूद जोकिम लो ने कोच पद पर बने रहने का फैसला किया और जर्मनी को फिर से सफलता की राह पर लाने के लिए कमर कसी। हालांकि नेशनल्स लीग के पहले ही मुकाबले में उसे 1998 के बाद दूसरी बार विश्व चैंपियन बने फ्रांस से कठिन मुकाबला मिला है। पॉल पोग्बा, एंटोनी ग्रीजमैन और कायलियन एमबापे फ्रांस को क्रोएशिया पर 14 जुलाई को विश्व कप में खिताबी जीत दिलाने के बाद पहली बार अपनी राष्ट्रीय टीम की ओर से मैदान पर उतरेंगे। उधर पिछले विश्व कप के लिए क्वालीफाई करने में नाकाम रही इटली की टीम नेशनल्स लीग में शुक्रवार को पोलैंड के खिलाफ अपने अभियान की शुरुआत करेगी जबकि आठ सितंबर को स्पेन की टीम इंग्लैंड से भिड़ेगी।

मुझे स्पेन की टीम से हटने का अफसोस नहीं : जुलेन

मैड्रिड, रायटर : रीयल मैड्रिड के मैनेजर जुलेन लोपेतेगुइ को स्पेन की राष्ट्रीय टीम के कोच पद से हटाए जाने का कोई अफसोस नहीं है। पिछले विश्व कप से एक दिन पहले स्पेनिश फुटबॉल संघ ने लोपेतेगुइ को रीयल मैड्रिड से बतौर मैनेजर जुड़ने की खबर आने के बाद हटा दिया था। लोपेतेगुइ ने कहा कि मैंने एक साधारण फैसला लिया और फिर लेना पड़ा तो लूंगा। मैंने इमानदारी पूर्वक अपना काम किया और मुझे किसी बात का अफसोस नहीं है। मैं रीयल मैड्रिड से बतौर मैनेजर जुड़कर बेहद खुश हूं। हमारे पास कई अहम चुनौतियां हैं। जो हो गया और उसे बदला नहीं जा सकता।

संन्यास तोड़कर दोस्ताना मैच के लिए लौटेंगे काहिल

सिडनी, रायटर : ऑस्ट्रेलिया के दिग्गज फुटबॉलर टिम काहिल अपना अंतरराष्ट्रीय संन्यास तोड़कर एक दोस्ताना मुकाबला खेलने जा रहे हैं जो कि उनके विदाई सम्मान में रखा गया है। इस साल नवंबर में ऑस्ट्रेलिया की टीम लेबनान के खिलाफ एक दोस्ताना मुकाबला अपने घरेलू मैदान पर खेलेगी जिसमें 38 वर्षीय काहिल एक आखिरी बार ऑस्ट्रेलिया की जर्सी में खेलते नजर आएंगे। रूस में अपने करियर का चौथा विश्व कप खेलने के बाद काहिल ने अंतरराष्ट्रीय फुटबॉल से संन्यास लेने की घोषणा की थी। काहिल ने कहा कि मैं वास्तव में इस फेयरवेल मैच में भाग लेने का अवसर पाकर बेहद खुश हूं और एफएफए और अर्नी (कोच ग्राहम आर्नोल्ड) की सराहना करता हूं कि मुझे आखिरी बार ऑस्ट्रेलिया की जर्सी पहनने का मौका दिया गया।

मौरिन्हो एक साल जेल की सजा के लिए तैयार

मैड्रिड, रायटर : मैनचेस्टर युनाइटेड के मैनेजर जोस मौरिन्हो स्पेन के कर अधिकारियों के साथ एक करार पर पहुंच गए हैं जिसके मुताबिक वह कर चोरी के मामले में एक साल की जेल की सजा काटने के लिए तैयार हो गए हैं। हालांकि स्पेन के कर कानून के मुताबिक मौरिन्हो को जेल जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी क्योंकि स्पेन में पहले जुर्म के लिए दी गई दो साल तक की सजा को जेल में जाकर काटना अनिवार्य नहीं है।

Posted By: Sanjay Savern