जियोंजू (दक्षिण कोरिया), एएफपी। दक्षिण कोरिया में कोरोना वायरस संकट के खत्म होने के बाद दर्शकों के बिना फुटबॉल टूर्नामेंट शुक्रवार को शुरू हुआ, जो खाली स्टेडियम में कराया गया, लेकिन इसे देखने के लिए बड़ी भारी संख्या में अंतरराष्ट्रीय टीवी दर्शक स्क्रीन पर नजर गड़ाए थे।

इस जियोंजू स्टेडियम ने 2002 विश्व कप के तीन मैचों की मेजबानी की थी और 42,477 दर्शकों की क्षमता का यह स्टेडियम शुक्रवार को खाली पड़ा था, जिसमें दक्षिण कोरियाई फुटबॉल लीग (के-लीग) का शुरुआती मुकाबला शुरू हुआ। इस शुरुआती मुकाबले में जेओनबुक ने सुवान ब्लूविंग्स को 1-0 से हराया।

दुनिया में ज्यादातर लीग इस महामारी के चलते बंद हैं लेकिन के-लीग पहली प्रतियोगिता है जो कोविड-19 के बाद शुरू हुई है। हालांकि मैच के दौरान सुरक्षा के लिए कई दिशानिर्देश जारी किए जिसमें गोल का जश्न मिल जुलकर नहीं मनाना और किसी से बातचीत नहीं करना शामिल था।

मैच से पहले स्टेडियम में केवल मीडिया वर्ग में हलचल थी जिसमें पत्रकारों और स्टाफ की आवाज सुनाई दे रही थी। इस मैच को ब्रिटेन, जर्मनी, ऑस्ट्रेलिया सहित 36 देशों में लाइव दिखाया जा रहा है। एक तरफ जहां दुनिया में कोविड 19 महामारी की वजह से पूरी तरह से खेल गतिविधियां बंद हैं ऐसे में दक्षिण कोरिया की ये पहल काफी शानदार है, लेकिन इसमे सबसे अहम खिलाड़ियों की सुरक्षा है क्योंकि यहां पर अगर जरा सी भी चूक हुई तो परिणाम गंभीर हो सकते हैं। 

 

Posted By: Sanjay Savern

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस