Move to Jagran APP

Fact Check Story: दिल्ली मेट्रो की फोटो को एडिट कर गलत दावे के साथ किया जा रहा वायरल

Fact Check Story विश्वास न्यूज ने अपनी पड़ताल में पाया कि भीमराव अम्बेडकर को लेकर सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा दावा गलत है। मेट्रो की वायरल तस्वीर एडिटेड है। असली तस्वीर अमेरिका की ट्रेन की नहीं बल्कि दिल्ली मेट्रो की है।

By Jagran NewsEdited By: Babli KumariPublished: Wed, 22 Mar 2023 03:35 PM (IST)Updated: Wed, 22 Mar 2023 03:35 PM (IST)
दिल्ली मेट्रो की फोटो को एडिट कर गलत दावे के साथ किया जा रहा वायरल

नई दिल्ली (विश्वास न्यूज)। मेट्रो पर भीमराव अम्बेडकर के पोस्टर पर लगी हुई एक तस्वीर तेजी से वायरल हो रही है। इस तस्वीर को सोशल मीडिया पर शेयर कर दावा किया जा रहा है कि यह तस्वीर अमेरिका के एक ट्रेन की है। अमेरिका ने अपनी सबसे रफ्तार से चलने वाली ट्रेन पर भीमराव अम्बेडकर के पोस्टर लगाए हैं।

दैनिक जागरण की फैक्ट चेकिंग वेबसाइट विश्वास न्यूज ने अपनी पड़ताल में पाया कि मेट्रो की वायरल तस्वीर एडिटेड है। असली तस्वीर अमेरिका की ट्रेन की नहीं, बल्कि दिल्ली मेट्रो की है। अब तस्वीर को गलत दावे के साथ शेयर किया जा रहा है।

फेसबुक यूजर धम्मा प्रिया बुद्धा ने 20 मार्च 2023 को वायरल पोस्ट को शेयर करते हुए कैप्शन में लिखा है, “जो काम भारत नहीं कर सका वह काम अमरीका ने करके दिखाया अमरीका की सबसे लम्बी दूरी की ट्रेन पे बाबासाहब का पोस्टर लगाया गया? मगर भारत की मनुवादी मीडिया यह खबर नहीं दिखाएगी !!! जयभीम !!!”

वायरल तस्वीर की सच्चाई जानने के लिए हमने फोटो को गौर से देखा, हमने पाया कि फोटो पर दिल्ली मेट्रो का लोगो लगा हुआ है। साथ ही फोटो को देखने पर यह भी साफ-साफ पता चला रहा है कि यह एडिटेड है। फोटो पर लिखे हुए शब्द गलत है और व्याकरण की जुड़ी कई अशुद्धियां मौजूद हैं। फोटो पर ‘भीम’ शब्द गलत लिखा हुआ है। एडिटिंग के जरिए ट्रेन पर ऊपर की तरफ जो जय भीम लिखने की कोशिश की गई है वो बाहर निकलता हुआ साफ नजर आ रहा है।

इस दावे की पूरी सच्चाई जानने के लिए इस लिंक पर क्लिक कर पूरे फैक्ट चेक को पढ़ा जा सकता है।


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.