नई दिल्ली (विश्वास न्यूज)। FACT CHECK STORY:  कामनवेल्थ गेम्स 2022 के रेसलिंग विजेता भारतीय खिलाड़ियों की एक एडिटेड तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। इसे किसान आंदोलन का बताया जा रहा है जबकि ऐसा नहीं है। 

 चार खिलाड़ियों की है तस्वीर 

बर्मिंघम में हुए कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 (Commonwealth Games 2022) में भारत के खिलाड़ियों का अच्छा प्रदर्शन देखने को मिला। भारत ने कुल 61 मेडल्स जीते। रेसलिंग में भारत को स्वर्ण पदक जिताने वाले खिलाड़ियों में बजरंग पुनिया, दीपक पुनिया, रवि कुमार दहिया और नवीन का नाम शामिल है। इसी से जोड़कर सोशल मीडिया पर एक तस्वीर को शेयर कर दावा किया जा रहा है कि ये तस्वीर किसान आंदोलन की है।

दैनिक जागरण की फैक्ट चेकिंग वेबसाइट विश्वास न्यूज़ की पड़ताल में वायरल दावा भ्रामक साबित हुआ। वायरल तस्वीर 10 सितंबर, 2021 की है, जब हरियाणा के सोनीपत जिले में हुए कार्यक्रम में किसान नेता राकेश टिकैत ने खिलाड़ियों को सम्मानित किया था।

वायरल दावे की जानें सच्चाई 

वायरल दावे की सच्चाई जानने के लिए हमने फोटो को गूगल रिवर्स इमेज के जरिए सर्च किया। इस दौरान हमें वायरल दावे से जुड़ी खबर अमर उजाला की वेबसाइट पर 11 सितंबर 2021 को प्रकाशित एक खबर में मिली। Etv Bharat की वेबसाइट पर भी 10 सितंबर 2021 को इस समारोह की कुछ तस्वीरें मिली। यहां दी गई जानकारी मुताबिक ,’ सर्वजाति किसान गरीब मंच ने सोनीपत के खरखौदा में एक सम्मान समारोह का आयोजन किया था। इस समारोह में किसान नेताओं ने टोक्यो ओलंपिक में मेडल विजेता पहलवान और खिलाड़ियों को सम्मानित किया था।

इनसे किया गया संपर्क 

अधिक जानकारी के लिए हमने दैनिक जागरण के सोनीपत चीफ सब एडिटर (इनपुट हेड), नंदकिशोर भारद्वाज को संपर्क किया। उनके साथ वायरल पोस्ट के लिंक को भी शेयर किया। उन्होंने हमें बताया, ‘यह फोटो सोनीपत के खरखौदा की अनाज मंडी में आयोजित सम्मान समारोह का है।

पूरी पड़ताल को यहां पढ़ें।

Edited By: Monika Minal