नई दिल्ली, जेएनएन। कोरोना वायरस लॉकडाउन की वजह से सभी अपने घर में लंबे समय ये कैद थे। वहीं ऐस टाइम में लोग अपनी पसंद की चीजें कर र​हे थे। ऐसे में स्टार्स की कई ऐसी तस्वीरें सामने आई ​थीं जिसमें वह घर में खाना बनाते व फैमिली संग काम करते नजर आए थे। वहीं लॉकडाउन के दौरान टीवी से बॉलीवुड तक का सफर तय करने वाले एक्टर गुरमीत चौधरी ने भी अपनी पसंद का काम किया। उन्होंने लॉकडाउन टाइम में ज्यादा से ज्यादा वक्त किताबों की दुनिया में बिता रहे हैं। 

फिल्म 'पलटन', 'वजह तुम हो' और 'खामोशियां' जैसी फिल्मों में नजर आ चुके अभिनेता गुरमीत चौधरी इन दिनों ढेर सारी किताबों पढ़ रहे हैं। उनका कहना है कि बीते तीन महीनों में उन्होंने इतनी किताबें पढ़ी हैं कि अब उन्हें किताबों से प्यार हो गया है। किताबों से लगाव के चलते उनके घर में अब उसका अंबार लग गया है। इन किताबों को व्यवस्थित रखने में उनकी पत्नी देबीना बनर्जी उनकी मदद करती हैं।

 

 

 

 

 

 

 

 

View this post on Instagram

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

‘’You have come to earth to entertain and to be entertained’’ Paramahansa Yogananda ji 🙏 In this lock down lots of people are facing anxiety, depression ..... and people asking me how I survived this lock down ? so guys I really want to tell you the secret and that secret is this book! (Autobiography of a Yogi) After reading this book I can proudly say I am a changed man for good. I think everyone should experience this book! from couple of months I started meditating twice a day and felt so good from inside-out (next I want to learn Kriya Yoga 🧘‍♂️ ). You may control a mad elephant; You may shut the mouth of the bear and the tiger; Ride the lion and play with the cobra; By alchemy you may learn your livelihood; You may wander through the universe incognito; Make vessels of the gods; be ever youthful; You may walk in water and live in fire; But control of the mind is better and more difficult. Paramahansa Yogananda ji #parmahansayogananda #autobiographyofayogi @autobiography_of_yogi @yogananda.blessings @kriyayogaguru @yogodasatsangasociety @yogodasatsangasociety 🙏🙏

A post shared by Gurmeet Choudhary (@guruchoudhary) on

गुरमीत के मुताबिक, इस दौरान उन्होंने परमाहंस योगानंद की ऑटोबायोग्राफी, डॉ तनुश्री सिंह की किताब 'सीवी रमन : एन इलस्ट्रेटेड स्टोरी ऑफ ए लाइफ' समेत कई ऑटोबायोग्राफी पढ़ीं। गुरमीत की आगामी फिल्म 'द वाइफ' एक साइकोलॉजिकल थ्रिलर फिल्म है। लगभग पचास प्रतिशत शूटिंग पूरी हो चुकी है। इसके अलावा गुरमीत कुछ अन्य स्क्रिप्ट भी पढ़ रहे हैं।

 

 

 

 

 

 

 

 

View this post on Instagram

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

#internationalyogaday #अंतरराष्ट्रीययोगा 🧘‍♂️

A post shared by Gurmeet Choudhary (@guruchoudhary) on

हाल ही में गुरमीत चौधरी ने फिटनेस को लेकर आईएएनएस से बात की थी। उन्होंने कहा था, 'फिटनेस उनके लिए हमेशा से महत्वपूर्ण रही है। जिम के अभाव में योग खुद को फिट रखने का एकमात्र उपाय है। मैं ओम का जाप करने के साथ दिन में दो बार ईशा क्रिया करता हूं।'

उन्होंने कहा, 'योग मेरे लिए अपने अंदर की शांति को तलाशने जैसा है। मैं हमेशा से ही फिटनेस का दीवाना रहा हूं। लॉकडाउन के दौरान शरीर के साथ-साथ दिमाग का भी फिट रहना जरूरी है। इसलिए मैंने पूरी तरह से योग की शरण ली है।'

जीतेगा भारत हारेगा कोरोन

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस