नई दिल्ली, जेएनएन। 'कौन बनेगा करोड़पति' का नाम सुनत ही हमारे जहन में सबसे पहले जो आवाज गूंजती है ​वो है अमिताभ बच्चन का नमस्कार, आदाब, सतश्री अकाल, देवियों और सज्जनों, कौन बनेगा करोड़पति में आपका स्वागत है...। इन शब्दों से ​बिग बी पूरे शो में जान और कंटेस्टेंट में नई एक नई उर्जा भर देते हैं। ​केबीसी के दौरान बोले गए उनके इन शब्दों के लिए अमिताभ बच्चन को बहुत तारीफ़ भी मिलती है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि बिग बी इस आवाज के पीछे न सिर्फ उनकी आवाज बल्कि किसी शख्स की जादूगरी शामिल है। केबीसी के दौरान शो के हर डायलॉग में जान फूँक देते हैं। आज हम आपको उस खास शख्स से रूबरू कराने जा रहे हैं। तो चलिए मिलते हैं उनसे...

शाहरुख खान के लिए भी लिखा स्क्रिप्ट  

'कौन बनेगा करोड़पति' में बोले जानेवाले हिंदी और उर्दू के बेमिसालि शब्दों का श्रेय किसी और नहीं बल्कि लेखक आरडी तैलंग को जाता है। साल 2000 से लेकर 2020 यानी अबतक तैलंग ही वो शख्स हैं जो 'कौन बनेगा करोड़पति' शो की स्क्रिप्ट लिखते आ रहे हैं। उन्होंने न सिर्फ अमिताभ बच्चन के लिए ही नहीं बल्कि तीसरे सीज़न के होस्ट शाहरुख़ ख़ान के लिए भी स्क्रिप्ट लिखी थी।

तैलंग कैसे जुड़े केबीसी से? 

आरडी तैलंग मूल रूप से मध्यप्रदेश के रहने वाले हैं। उन्होंने कभी नहीं सोचा था कि वह मुंबई आएंगे और यही उनकी कर्मभूमि बन जाएगी। एक इंटरव्यू में उन्होंने बताया, 'एक रिश्तेदार को छोड़ने के लिए मैं मुंबई आए थे और ये शहर उन्हें अच्छा लगा। उस वक्त मैंने खुद से एक सवाल किया क्या इस शहर की भीड़ में मेरा कुछ हो सकता है और देखो इस शहर ने मुझे भी सुन लिया।'

छोटे से अखबार से शुरू किया था काम

आरडी तैलंग ने एक छोटे से अखबार से अपने करियर की शुरुआत की थी। इसके बाद उन्होंने इलेक्ट्रॉनिक मीडिया में अपना हाथ आजमाया और फिर एसिस्टेंट डायरेक्टर के तौर पर काम किया। इसे बाद उन्होंने लेखन में अपना हाथ आज़माया और लेखक बनने का फैसला किया।  

इस शो में मिला बड़ा ब्रेक 

आरडी तैलंग को पहला बड़ा ब्रेक मिला 'मूवर्स और शेकर्स' के साथ। इसी के बाद उन्हें साल 2000 में 'कौन बनेगा करोड़पति' शो के साथ जुड़ने का मौक़ा मिला। आज आरडी तैलंग के केबीसी से जुड़े पूरे बीस साल हो गए हैं। वहीं बिग बी के साथ काम करने का उनका अनुभव काफी शानदार रहा है।   

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021