पराग छापेकर, मुंबई। सलमान ख़ान की फ़िल्म उनके फैंस के लिए उत्सव की तरह होती है और ऐलान के साथ ही सफलता की गारंटी भी लेकर आती है। एक 'दबंग' पुलिस अफ़सर के रूप में चुलबुल पांडेय का किरदार  दर्शकों के दिलों में बैठ गया था। 'दबंग 2' की सफलता ने इस बात को और पुख्ता किया। अब जबकि 'दबंग 3' रिलीज़ हो गयी है तो एक बार फिर सिनेमाघरों में सलमान के फैंस का शोर सुनाई देने लगा है।

'दबंग 3' को प्रभु देवा ने डायरेक्ट किया है, जो दक्षिण भारतीय कलाकार और निर्देशक हैं। कथानक और दृश्यों के लिहाज़ से दबंग 3 पहली दोनों फ़िल्मों की लाइन पर ही है, मगर एक्शन में प्रभु देवा के निर्देशन की छाप साफ़ नज़र आती है। दबंग सीरीज़ जिस तरह के एक्शन, कॉमेडी और संगीत के लिए जानी जाती है, दबंग 3 में उन सभी एलिमेंट्स को पिरोया गया है। अलबत्ता, कहानी इस बार पहली दोनों फ़िल्मों से काफ़ी अलग है।

दबंग 3 में चुलबुल पांडेय की बैक स्टोरी दिखायी गयी है और इस हिस्से में चुलबुल की पहली लव स्टोरी भी दर्शकों के सामने खुलती है। यहां एंट्री होती है खुशी (सई मांजरेकर) की, जो चुलबुल का पहला प्यार है। इस कहानी का खलनायक बाली है, जिसे साउथ सिनेमा के जाने-माने कलाकार सुदीप ने निभाया है। दबंग 3 का यह खलनायक इस बार ज़्यादा ताक़तवर बनकर चुलबुल पांडेय के सामने आया है। 

चुलबुल पांडेय कैसे बाली को ख़त्म करेंगे, दबंग 3 की कहानी इसी पर आधारित है। वांटेड में सलमान ख़ान को निर्देशित कर चुके प्रभु देवा ने दबंग सीरीज़ की पहचान से भटके बिना इसे सफलता के साथ आगे बढ़ाया है।  दबंग 3 चुलबुल पांडेय के रूप में सलमान के प्रभाव को गहरा करती है। फ़िल्म में प्रभु देवा ने उन सभी मसालों को सही इस्तेमाल किया है, जो सलमान के फैंस को पसंद हैं और जिसके लिए वो सिनेमाघरों तक खिंचे चले आते हैं। 

 

 

 

 

 

 

 

 

View this post on Instagram

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

A post shared by Chulbul Pandey (@beingsalmankhan) on

बात करें कलाकारों के अभिनय की तो सई मांजरेकर का डेब्यू एकदम परफेक्ट रहा। जाने-माने एक्टर और निर्देशक महेश मांजरेकर की बेटी सई के अभिनय में और निखार आने की पूरी उम्मीद है। पाठकों को याद दिला दें कि दबंग में महेश मांजरेकर ने सोनाक्षी सिन्हा के किरदार रज्जो के पिता का रोल निभाया था। वहीं रज्जो बनी सोनाक्षी सिन्हा अपने किरदार में एकदम जंचती हैं। सोनाक्षी दबंग सीरीज़ की तीनों फ़िल्मों का हिस्सा रही हैं।

चुलबुल पांडेय के सौतेले भाई के मक्खी यानि मक्खन पांडेय के किरदार में अरबाज ख़ान फिट नज़र आते हैं। अरबाज़ इस फ़िल्म के निर्माता भी हैं। इस बार उनके किरदार में कुछ नए आयाम जुड़े हैं, जो अरबाज़ की अभिनय क्षमता को उभारकर लाते हैं। साउथ के सुपरस्टार सुदीप खलनायक के तौर पर अपनी सशक्त उपस्थिति दर्ज कराते हैं। हालांकि उनसे हिंदी डबिंग करवाते समय थोड़ी और एहतियात बरती जाती तो किरदार के लिए और भी अच्छा होता।

 

 

 

 

 

 

 

 

View this post on Instagram

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

Aa rahe hain kal humari Rajjo ke saath lekar saal ka sabse bada tohfa aap sabhi ke liye. Swaagat toh karo humaara! #1DayToDabangg3 (Ticket Booking Link in bio) @arbaazkhanofficial @aslisona @saieemmanjrekar @prabhudevaofficial @kichchasudeepa @nikhildwivedi25 @skfilmsofficial @saffron_bm

A post shared by Chulbul Pandey (@beingsalmankhan) on

कुल मिलाकर 'दबंग 3' कमर्शियल ज़ोन में संपूर्ण मनोरंजन परोसती है। अगर आप सलमान ख़ान के फैन हैं तो आपको यह फिल्म बेहद पसंद आएगी। अगर आप उनके फैन नहीं हैं तो भी 'दबंग 3' निराश नहीं करेगी।

कलाकार- सलमान ख़ान, सोनाक्षी सिन्हा, सई मांजरेकर, किच्चा सुदीप, अरबाज़ ख़ान आदि।

निर्देशक- प्रभु देवा

निर्माता- अरबाज़ ख़ान, सलमान ख़ान।

वर्डिक्ट- ***1/2 (साढ़े तीन स्टार)

Posted By: Mohit Pareek

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस