नई दिल्ली, जेएनएन। टीवी एक्टर और गायक करण ऑबेरॉय पर यौन शोषण का आरोप लगानी वाली ज्योतिष महिला को मुंबई पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। 25 मई को महिला ने मुबंई के ओशीवारा पुलिस स्टेशन (Oshiwara police) में एफआईआर दर्ज करवाई थी। महिला का आरोप था कि जब वो मॉर्निंग वॉक पर गई थी तभी कुछ बाइकसवारों ने उस पर हमला कर दिया और केस वापस लेने की धमकी देकर गए। इतनी ही नहीं हमलावरों ने महिला पर एसिड अटैक करने की भी धमकी दी थी।

पुलिस ने जब इस मामले की जांच की तो पता चला कि महिला ने खुद अपने ऊपर हमला करवाया था। पुलिस ने  सीसीटीवी फुटेज खंगाले और दो लोगों को गिरफ्तार कर लिया। बाद में पता चला कि गिरफ्तार हुए दो लोगों में से एक हमलावर महिला की वकील का रिश्तेदार था। बाद में महिला ने भी इस बात को स्वीकार कर लिया कि उसने करण के खिलाफ अपने केस को और मजबूत करने के लिए ये फर्जी हमला करवाया था।

क्या था मामला :
6 मई को एक महिला ने करण पर ब्लैकमेलिंग और यौन शोषण का आरोप लगाया था। उसका कहना था कि करण ने शादी का झांसा देकर उसके साथ यौन शोषण किया। महिला के मुताबिक, साल 2016 में एक डेटिंग ऐप्लिकेशन के जरिए करण और उसकी मुलाकात हुई थी। उसके बाद दोनों अच्छे दोस्त बन गए। एक दिन करण ने उसे अपने फ्लैट पर मिलने के लिए बुलाया। जहां उसने महिला से शादी का वादा किया। उसके बाद उसका शोषण किया और वीडियो बना लिया। महिला का आरोप था कि करण यौन उत्पीड़न का वीडियो दिखाकर उससे पैसे की मांगा करता था।

करण एक महीने तक रहे जेल में बंद :
महिला के आरोप के बाद करण को 6 मई को मुंबई पुलिस ने उनके घर से गिरफ्तार कर लिय था। एक महीन तक जेल में रहने के बाद 7 जून को मुंबई हाईकोर्ट ने करण को जमानत दे दी। इससे पहले उनकी जमानत की अर्जी 17 मई को निचली अदालत ने खारिज कर दी थी और उन्हें मुंबई के अंधेरी कोर्ट में प्रस्तुत किया गया थाl जहां से जज ने उन्हें 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया थाl

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप