नई दिल्ली, जेएनएन। बॉलीवुड के दिग्गज अभिनेता कबीर बेदी की पर्सनल लाइफ काफी उलझनों भरी है। लव लाइफ लेकर शादी के बाद तक कबीर की ज़िंदगी में कई उतार चढ़ाव आए, जिसे अब एक्टर ने अपनी किताब 'स्टोरीज आई मस्ट टेल: द इमोशनल लाइफ ऑफ द एक्टर' (Stories I Must Tell) में पिरोया है। कबीर ने हाल ही में अपनी बायोग्राफी 'स्टोरीज आई मस्ट टेल: द इमोशनल लाइफ ऑफ द एक्टर' (Stories I Must Tell) लॉन्च की है जिसे लेकर वो काफी सुर्खियों में हैं। इस किताब में उन्होंने निजी जिंदगी को लेकर कई खुलासे किए हैं। परवीना बॉब से प्यार से लेकर बेटे कि सिद्धार्थ की आत्महत्या तक, एक्टर ने अपनी ज़िंदगी के कई कड़वे पहलुओं को इस किताब में लिखा है।

फिलहाल एक्टर किताब का प्रमोशन कर रहे हैं। इसी सिलसिले में हाल ही में एक्टर ने बॉलीवुड हंगामा से बात की और अपने बेटे सिद्धार्थ की मौत के बारे में बताया। कबीर ने बताया कि उन्होंने अपने बेटे को बचाने की हर मुमकिन कोशिश की,लेकिन वो बचा नहीं पाए और सिद्धार्थ ने आत्महत्या कर ली। एक्टर ने बताया, ‘सिद्धार्थ बहुत ही शानदार लड़का था। उसके अंदर कई योग्यताएं थीं, लेकिन एक दिन अचानक उसका सोचना बंद हो गया। वो कुछ सोच नहीं पा रहा था। हमने बहुत कोशिश की कि समझ पाएं कि उसे हो क्या रहा है। तीन साल हम इस अंजानी शक्ति से लड़ते रहे तभी एक दिन वो Montreal की सड़कों पर हिंसक हो गया, आठ पुलिसवालों ने मिलकर उसे कंट्रोल किया। फिर आखिरकार Montreal के डॉक्टर्स ने बताया कि सिद्धार्त सिजोफ्रेनिया (Schizophrenia) नाम की बीमारी से लड़ रहा हैट'।

'पूरे परिवार ने बहुत कोशिश की कि सिद्धार्थ इस बीमारी से लड़ पाए। लेकिन वो हमने उसे खो दिया..वो चला गया’। आपको बता दें कि कबीर बेदी के बेटे सिद्धार्थ ने 26 साल की उम्र में आत्महत्या कर ली थी। इससे पहले भी कबीर इंटरव्यू में इस बात जिक्र कर चुके हैं कि उन्हें पता था कि सिद्धार्थ किस तकलीफ से गुज़र रहे हैं और वो आत्महत्या करने वाले हैं, लेकिन वो उन्हें बचा नहीं सके। कबीर ने सिद्धार्थ का कई जगह इलाज भी करवाया लेकिन वो ठीक नहीं हो पाए और आखिर में बेटे ने मौत को गले लगा लिया। इस बात का एक्टर को आजतक अफसोस होता है।

 

 

 

 

 

 

 

 

View this post on Instagram

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

A post shared by Kabir Bedi (@ikabirbedi)

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021