अनुप्रिया वर्मा, मुंबई। अभिमन्यु अपने फिल्मी करियर की शुरुआत वासन बाला की फिल्म ''मर्द को दर्द नहीं होता'' से कर रहे हैं. वह हिंदी सिनेमा की लोकप्रिय अभिनेत्री भाग्यश्री के बेटे हैं. हाल ही जब उन्होंने जागरण डॉट कॉम से बातचीत की तो उन्होंने बताया कि भले ही उनकी यह पहली फिल्म हो, लेकिन वह पिछले लंबे समय से इंडस्ट्री का हिस्सा हैं.

वह 9 सालों से इस इंडस्ट्री में स्ट्रगल कर रहे हैं. ऐसा नहीं है कि भाग्यश्री के बेटे होने की वजह से उन्हें खूब काम मिल रहा था या सबकुछ आसानी से मिला. वह कहते हैं कि वह कभी भी किसी से मिलने जाते थी तो कभी नहीं बताते थे कि वह भाग्यश्री के बेटे हैं. वह कहते हैं कि वह चाहते थे कि अपने दम पर ही पहचान बनाएं और ऐसा भी नहीं था कि उन्हें कई फिल्मों के ऑफ़र मिलने लगे थे. उन्होंने शुरुआती दौर में काफी ऑडिशन दिए हैं और फिल्म मेकिंग के गुर सीखे.

अभिमन्यु कहते हैं कि उन्होंने जब पहली बार अपनी मां की फिल्म देखी तो उन्हें बहुत गुस्सा आया था. उन्हें लग रहा था कि ये मेरी मां किसके साथ है. वह मेरे पास होनी चाहिए. किसी और के साथ क्यों है. अभिमन्यु कहते हैं कि लेकिन जब अब वह खुद फिल्मों की दुनिया में आये हैं तो उन्हें बात समझ आती है कि रियल और रील लाइफ में बहुत फर्क होता है.

बता दें कि अभिमन्यु ने फिनांस में पढ़ाई पूरी की है और इसके बाद उन्होंने कई तरह के बिजनेस भी किये हैं. साथ ही वह दम मारो दम में भी सेट पर असिस्ट कर चुके हैं. मर्द को दर्द नहीं होता 21 मार्च को रिलीज होने जा रही है.

Posted By: Rahul soni

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस