नई दिल्ली, जेएनएन। बॉक्सिंग में छह बार की विश्व चैम्पियन रह चुकीं मैरी कॉम टोक्यो ओलम्पिक्स के प्री-क्वार्टर मैच में भले ही हार गयी हों, लेकिन उनके प्रदर्शन ने करोड़ों लोगों के दिल जीत लिये हैं। बॉलीवुड सेलेब्रिटीज़ ने भी मैरी कॉम की जमकर तारीफ़ की और उन्हें चैम्पियन बताया। ओलम्पिक्स में उम्र की सीमा 40 साल है। इस लिहाज़ से इस प्रतियोगिता में यह उनका आख़िरी मैच था। हालांकि, रिपोर्ट्स की मानें तो ख़ुद मैरी कॉम अपनी हार से हैरान हैं।

मैरी कॉम की बायोपिक में प्रियंका चोपड़ा ने उनका किरदार निभाया था। प्रियंका ने लिखा- एक महान चैम्पियन ऐसा ही दिखता है। शाबाश मैरी कॉम... आपने हमें दिखाया कि जज़्बे और समर्पण से कैसे आगे बढ़ा जाए। आप हमें प्रेरित करती हो और हर बार हमें गौरवान्वित करती हो। लीजेंड।

बता दें, मैरी कॉम की बायोपिक 2014 में रिलीज़ हुई थी। फ़िल्म का निर्देशन उमंग कुमार ने किया था। दर्शन कुमार ने इस फ़िल्म में मैरी कॉम के पति का किरदार निभाया था। संयोग से फ़रहान अख़्तरी की तूफ़ान में वही दर्शन कुमार प्रतिद्वंद्वी बॉक्सर के किरदार में दिखे। हालांकि, यहां उनका रोल नेगेटिव था।

तूफ़ान में बॉक्सर का किरदार निभा चुके फ़रहान अख़्तर ने लिखा- बढ़िया लड़ीं मैरी कॉम। एक मेडल से परे आप कई मायनों में चैम्पियन हो। सम्मान। वरुण धवन ने लिखा- हमेशा ही एक चैम्पियन। गौतम रोडे ने मैरी कॉम के लिए लिखा- सच्ची चैम्पियन। 

बता दें कि भारतीय मुक्केबाज ने पहले 2019 विश्व चैंपियनशिप क्वार्टर फाइनल में वालेंशिया को हराया था और उनके खिलाफ कोलंबियाई मुक्केबाज की पहली जीत है। मैरी कॉम की तरह 32 वर्षीय वालेंशिया अपने देश की स्टार मुक्केबाज हैं। वह ओलिंपिक खेलों में कोलंबिया का प्रतिनिधित्व करने वाली और खेलों में पदक जीतने वाली देश की पहली महिला मुक्केबाज हैं। मैरी कॉम ने दूसरे और तीसरे राउंड में शानदार प्रदर्शन किया। दोनों राउंड 3-2 से जीतीं, लेकिन शुरुआती राउंड में बढ़त के कारण वालेंशिया इस मैच को जीत गईं।

Edited By: Manoj Vashisth