नई दिल्ली, जेएनएन। The Kashmir Files: गोवा में आयोजित IFFI के 53वें संस्करण में ज्यूरी चेयरमैन के हेड और इजरायली फिल्म मेकर ने विवेक रंजन अग्निहोत्री की फिल्म द कश्मीर फाइल्स को अभद्र बताते हुए प्रोपेडेंगा फिल्म करार दिया था, जिसके बाद मेकर्स और कई लोगों द्वारा नदाव लपिड को भारी विरोध का सामना करना पड़ा। अब उन्होंने एक इंटरव्यू में अपने इस विवादित बयान का बचाव किया है।

फिल्ममेकर नदाव लपिड ने इजरायली वेबसाइट Ynet को दिए इंटरव्यू में कहा, मैं इस बात से हैरान था कि ये फिल्म कश्मीर पर भारतीय सरकार की लाइन का मूल रूप से फॉलो करती है। फिल्म 90 के दशक में कश्मीरी हिंदुओं के बड़े पैमाने पर हुए पलायन पर आधारित है और विवेक अग्निहोत्री ने दावा किया है कि फिल्म में एक भी सीन या संवाद छेड़-छाड नहीं की गई है, लेकिन ये फिल्म भारतीय सरकार की कश्मीर नीति को हुबाहु फॉलो करती है और इसमें फासीवाद वाली खासियतें हैं। उन्होंने ये भी कहा कि अगर द कश्मीर फाइल्स जैसी फिल्में अगले कुछ सालों में इजरायल में भी बनें तो उन्हें इस पर कोई आश्चर्य नहीं होगा।

मन में थी आशंका...

  

वहीं, जब इंटरव्यू में उनसे पूछा गया कि इस बयान के देते वक्त उनके दिमाग में क्या चल रहा था तो उन्होंने कहा, मुझे पता था कि ये एक ऐसी घटना है जो देश के हर व्यक्ति से जुड़ी हुई है और हर कोई उसके पक्ष में खड़ा है, लेकिन ये आसान नहीं था, क्योंकि आप एक अतिथि हैं और मैं वहां ज्यूरी का अध्यक्ष था। आपके साथ बहुत अच्छा व्यवहार होता है और तब तुम किसी फेस्टिवल पर हमला करते हैं। हां मन में एक आशंका और बेचैनी थी। चलो इस वहीं खत्म करते हैं... मैं अब हवाई अड्डे के लिए रास्ते पर निकल आया हूं... और खुश हूं।  

किसी को तो बोलना था...

नदाव ने इसी इंटरव्यू में आगे कहा, मेरे भाषण के बाद लोग मेरे पास आए और उन्होंने मेरा शुक्रिया अदा किया। उन देशों में जहां लोग तेजी से अपने मन की बात या सच बोलने की शक्ति खो रहे हैं, वहां किसी को तो बोलने की जरूरत है। इसलिए मुझे लगा कि ये मुझे ही करना पड़ेगा, क्योंकि मैं एक ऐसी जगह से आया हूं, जहां की खुद स्थितियों में सुधार नहीं हुआ है।

विवेक रंजन ने दी तीखी प्रतिक्रिया

वहीं, मंगलवार को द कश्मीर फाइल्स के निर्देशक विवेक रंजन अग्निहोत्री ने नदाव के बयान पर तीखी प्रतिक्रिया देते हुए उन्होंने चैलेंज किया था कि वो किसी भी एक शॉट, डायलॉग या इवेंट को साबित कर दें कि वो पूरी तरह से सच नहीं है, तो मैं फिल्में बनाना छोड़ दूंगा।

इजरायली कौंसल जनरल ने मांगी माफी

इजरायली फिल्म मेकर नदाव लपिड के बयान के बाद विवाद को बढ़ा के भारत में मौजूद इजरायल के कौंसल जनरल ने अनुपम खेर से मंगलवार सुबह फोन कर माफी मांगी थी। ये जानकारी समाचार एजेंसी ने अपने ट्विटर हैंडल शेयर की थी।

यह भी पढ़ें: Kim Kardashian को हर महीने 1.6 करोड़ रुपये मिलेंगे कायेन वेस्ट से, बच्चों के सपोर्ट के लिए हुआ यह सेटलमेंट

Edited By: Nitin Yadav

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट