नई दिल्ली, जेएनएन। तापसी पन्नू और कंगना रनौत बॉलीवुड की वो दो हिरोइनें हैं, जिन्होंने बिना किसी फिल्मी बैकग्राउंड के अपना मुकाम बनाया है। दोनों मजबूती से अपनी राय रखती हैं और आवाज बुलंद करती हैं। पर काफी समय से दोनों अभिनेत्रियां जुबानी जंग में उलझी हुई हैं। इस जंग की शुरुआत हुई जब तापसी पन्नू ने कंगना की तारीफ की पर साथ ही कहा कि उन्हें डबल फिल्टर की जरूरत हैं। इस बयान के लिए कंगना की सिस्टर रंगोली ने तापसी पन्नू की आलोचना की और उन्हें कंगना की सस्ती कापी करार दिया। अब तापसी ने उस कमेंट का जवाब दिया है।

पिंक विला को दिए एक इंटरव्यू में तापसी ने कहा कि अब मैं उनके निशाने की लिस्ट में हूं। वे मेरी जिंदगी में मायने नहीं रखती हैं। केवल मेरे करीबी दोस्त मुझे प्रभावित कर सकते हैं। मैं हंस रही थी और सोच रही थी कि आज मेरी बारी है। तापसी ने कहा, मैं इनकार नहीं कर सकती हूं कि कंगना शानदार अभिनेत्री हैं। मुझे उनकी कापी कहे जाने पर दुख नहीं होना चाहिए। जहां तक सस्ती का सवाल है तो कंगना की फीस ज्यादा है।

तापसी, रंगोली और बॉलीवुड में एजिज्म डिबेट

सांड की आंख फिल्म का ट्रेलर आने के बाद रंगोली ने इस फिल्म में तापसी और भूमि पेडनेकर को कास्ट करने को लेकर सवाल उठाए हैं। इसके बाद बॉलीवुड में एजिज्म पर डिबेट छिड़ गई है। नीना गुप्ता से लेकर आलिया भट्टी का मां सोनी राजदान ने भी इस मुद्दे पर अपनी राय रखते हुए कहा है कि फिल्म में उम्रदराज रोल तो उम्रदराज अभिनेत्रियों से ही कराए जाने चाहिए। सांड की आंख में तापसी और भूमि 60 साल की महिला का किरदार निभा रही हैं। रंगोली का कहना है कि यह फिल्म पहले कंगना रनौत को ऑफर की गई थी लेकिन उन्होंने यह किरदार निभाने से इनकार कर दिया। साथ ही कंगना ने निर्माताओं को सलाह दी कि वह ये किरदार राम्या कृष्णन और नीना गुप्ता जैसी अभिनेत्रियों को दें। इसके बाद भी वार ऑफ वर्ड खत्म नहीं हुआ। तापनी ने एक बयान जारी किया और रंगोली ने उन्हें एक्टिंग सीखने की सलाह दे डाली।

Posted By: Vineet Sharan

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप