मुंबई। सलमान ख़ान इन दिनों अपनी फ़िल्म ‘भारत’ और टीवी शो ‘दस का दम’ के लिए चर्चा में रहते हैं। साथ ही वो अपने बहनोई आयुष शर्मा की डेब्यू फ़िल्म ‘लवरात्रि’ के लिए भी मीडिया से लगातार संवाद कर रहे हैं। बहरहाल, आज बात सलमान और उनके पिता सलीम ख़ान की। दरअसल, सोशल मीडिया पर अपने लेटेस्ट पोस्ट में सलमान ख़ान ने पिता सलीम ख़ान की एक दुर्लभ तस्वीर साझा की है।

82 साल के इस दिग्गज पटकथा लेखक को आप इस तस्वीर में पहचान भी नहीं पायेंगे। अपने यंग लुक में सलीम ख़ान काफी डैशिंग लग रहे हैं। इस तस्वीर के साथ सलमान ख़ान ने लिखा कि- ‘मेरे डैडी सबसे हैंडसम हैं!’ बहरहाल, आप भी देखें सलीम ख़ान की यह तस्वीर जो सलमान ने शेयर की है। इस तस्वीर में पहली नज़र में वो किसी एक्टर से कम नहीं लग रहे हैं। एक दिलचस्प जानकारी यह भी है कि सलीम ख़ान मुंबई हीरो बनने के लिए ही आये थे। दरअसल, सलीम ख़ान के जीजाजी हामिद अली ख़ान तब भोपाल (मध्यप्रदेश) में रहते थे। उसी दौरान शम्मी कपूर जैसे कई बॉलीवुड अभिनेता उनके यहां आते-जाते रहते थे। इन सितारों को देखकर तभी सलीम ख़ान के मन में फ़िल्म इंडस्ट्री से जुड़ने का ख्याल आया और फिर जीजाजी की सिफारिश पर शम्मी कपूर ने उन्हें मुंबई बुला लिया और इस तरह से उनका बॉलीवुड का सफ़र शुरू हुआ था। शुरूआती फ़िल्मों में हीरो बनने के बाद सलीम ख़ान को यह समझ आ गया कि अभिनेता बनना उनके बस की बात नहीं है और फिर वो लिखने लगे। 

यह भी पढ़ें: अपने समधी की शोक सभा में भावुक नज़र आये अमिताभ बच्चन, देखें तस्वीरें

बता दें कि टीवी शो ‘दस का दम’ के सेट पर सलमान ने अपने पिता को लेकर कई बातें बताईं। हाल ही में उन्होंने बताया कि पापा सलीम ख़ान ने गर्लफ्रेंड्स को लेकर सभी को तगड़ी चेतावनी दे रखी थी। कहा था कि इधर-उधर घूमने की बजाय घर पर रहो। सलमान ने कहा कि इसी तरह की हिदायत मेरी बहनों को भी थी। अगर उनकी ज़िंदगी में कोई अच्छा लड़का आया है तो कहा गया था कि इस बारे में पहले घर पर मम्मी पापा को बताना होगा। उन्हें कुछ भी छिपाने की सख्त मनाही थी। सलमान ने कहा कि पापा ने हम सब भाई- बहनों को अपनी पसंद से शादी करने की छूट दे रखी थी। ज़ाहिर है ये उम्र के उस पड़ाव की बात थी जब सलमान बड़े हो रहे थे। बहरहाल, ऊपर की तस्वीर से पहल एभि सलमान कई मौकों पर पिता के साथ अपनी तस्वीर शेयर करते रहे हैं।  एक और तस्वीर देखें जो कई जगह वाइरल हुई थी!

सलीम ख़ान और सलमान में बहुत ही स्पेशल रिश्ता है। पिता पुत्र की यह जोड़ी अपने बॉन्डिंग के लिए जानी जाती है। हाल हे एमें जब प्रियंका चोपड़ा सलमान के साथ अपनी फ़िल्म ‘भारत’ से अलग हो गईं तब भी सलीम ख़ान का एक बयान गौर करने लायक रहा। सलीम ख़ान ने कहा था कि- ‘प्रियंका की जगह कोई भी फ़िल्म में आ जायेगी।’ बहरहाल, जैसा कि आप जानते हैं कभी सलीम-जावेद की जोड़ी बहुत मशहूर थी। सलीम ख़ान और जावेद अख्तर ने ‘शोले’, ‘दीवार’ और ‘ज़ंजीर’ जैसी कई बेहतरीन फ़िल्में लिखी हैं। 

यह भी पढ़ें: सेंसर बोर्ड नहीं मैं तय करूंगी कि मुझे क्या देखना है: टिस्का चोपड़ा

1970 के बाद का जो दौर है उस वक़्त हिंदी सिनेमा का चेहरा और मिजाज़ बदलने का पूरा श्रेय सलीम-जावेद की जोड़ी को जाता है। ‘दीवार’, ‘ज़ंजीर’ और  ‘शक्ति’ के लिए फ़िल्मफेयर से पुरस्कार पाने के अलावा इस जोड़ी ने 25 से ज्यादा यादगार फ़िल्में लिखीं हैं। सलीम ख़ान एक काययाब स्क्रीनराइटर बनने से पहले एक दर्जन फ़िल्मों में बतौर अभिनेता भी काम कर चुके थे और उन्होंने जावेद अख्तर के बिना भी दस से ज्यादा फ़िल्में लिखी हैं। सलमान आज एक सुपरस्टार के रूप में भले ही पहचाने जाते हैं पर उनकी बुनियाद सलीम ख़ान जैसे पिता ने रखी है।

Posted By: Hirendra J