रुपेशकुमार गुप्ता, मुंबई। संजय लीला भंसाली निर्देशित फिल्म पद्मावत में रणवीर सिंह नेगेटिव रोल में नज़र आए हैं। इस रोल के लिए उनकी एक्टिंग स्किल को काफी सराहा जा रहा है। रणवीर का मानना है कि, यह उनके लिए एक चैलेंज था। 

फिल्म पद्मावत में अलाउद्दीन खिलजी का किरदार निभाने वाले रणवीर सिंह कहते हैं कि, आजकल कोई भी नेगेटिव रोल नहीं करना चाहता। ऐसे में उन्होंने इसे एक चुनौती की तरह लिया था। एक इंटरव्यू के दौरान रणवीर कहते हैं, आज के दौर में कोई भी अभिनेता नकारात्मक भूमिका नहीं करना चाहता है। ऐसे में फिल्म पद्मावत में अलाउद्दीन खिलजी जैसी नकारात्मक भूमिका चुनने की वजह बताते हुए रणवीर सिंह ने कहा कि इस किरदार को निभाना उनके लिए एक बहुत बड़ी रिस्क लेने जैसा था। इसके अलावा उन्होंने यह भी बताया कि पहले भी कई बॉलीवुड स्टार्स ने ऐसे रोल को करने से मना किया था। रणवीर सिंह ने यह भी कहा कि लोगों ने पहले संजय दत्त की फिल्म 'खलनायक' भी बनाई है लेकिन उन फिल्मों में वह हैवानियत नहीं थी जो कि अलाउद्दीन खिलजी की भूमिका में है। रणवीर आगे कहते हैं कि, वह भी उनके जीवन में एक बार नकारात्मक भूमिका निभाना चाहते थे तो उन्हें लगा कि वह अलाउद्दीन खिलजी की ही भूमिका को चुने। रणवीर ने यह बात स्वीकारी कि, उन्हें इस बात का अंदाजा था कि उनकी नकारात्मक भूमिका से कई लोग उन्हें नापसंद करने लग जाएंगे लेकिन फिल्म को मिल रही प्रतिक्रिया से वह बहुत खुश हैं।

गौरतलब है कि फिल्म पद्मावत में रानी पद्मावती की भूमिका दीपिका पादुकोण ने निभाई है। फिल्म पद्मावत के बाद अब रणवीर सिंह अब जोया अख्तर की फिल्म गली बॉय में नज़र आयेंगे।

Posted By: Rahul soni

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस