नई दिल्ली, जेएनएन। जम्मू व कश्मीर (Jammu And Kashmir) में अनुच्छेद 370 (Article 370) ख़त्म करने के भारत सरकार के एलान के बाद से ही पाकिस्तान तिलमिलाया हुआ है। इसको लेकर वहां के लोग तरह-तरह की बयानबाज़ी कर रहे हैं। अब एक मशहूर एक्ट्रेस ने अंतरराष्ट्रीय मंच पर बॉलीवुड पर निशाना साधते हुए पाकिस्तान की छवि ख़राब करने का आरोप लगाया है।

एक्ट्रेस मेहविश हयात (Mehwish Hayat) ने ओसलो में एक कार्यक्रम के दौरान बॉलीवुड पर अपनी फ़िल्मों के ज़रिए इस्लाम और पाकिस्तान को बदनाम करने का आरोप लगाया। मेहविज़ ने कश्मीर को लेकर दोनों मुल्कों के बीच चल रही तनातनी को रेखांकित करते हुए कहा कि हमारे पड़ोसियों (भारत) के पास दुनिया की सबसे बड़ी फ़िल्म इंडस्ट्री में से एक है। इसके ज़रिए वे लोगों को एकजुट करने की ताक़त रखते हैं, लेकिन वो करते क्या हैं। वे पाकिस्तानियों को विलेन दिखाते हुए अनगिनत फ़िल्में बनाते हैं। पिछले साल ही ऐसी तमाम फ़िल्में आयी हैं, जिनमें पाकिस्तान को ख़राब ढंग से दिखाया गया है।

मेहविश ने आगे कहा, ''मैं यह समझती हूं कि हमारे इतिहास और अतीत को देखते हुए उदासीन रहना बेहद मुश्किल है। लेकिन अगर हम अपनी आने वाली नस्लों के लिए सुरक्षित भविष्य चाहते हैं तो कलाकार होने के नाते हमें भी स्टैंड लेना होगा। हमारे पड़ोसियों को यह तय करना होगा कि वो क्या चाहते हैं- शांतिमय भविष्य और राष्ट्रवाद का उन्माद।''

इसके बाद मेहविश ने पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान ख़ान को कोट करते हुए कहा कि अगर वो एक क़दम बढ़ाएंगे तो हम दस क़दम बढ़ाने को तैयार हैं। बॉलीवुड पर आरोप लगाने से पहले मेहविज़ ने हॉलीवुड इंडस्ट्री को भी पाकिस्तान की छवि धूमिल करने के लिए ज़िम्मेदार ठहराया। मेहविज़ ने 'होमलैंड' और 'ज़ीरो डार्क थर्टी' जैसी फ़िल्मों के नाम लेते हुए कहा कि इन फ़िल्मों ने पाकिस्तान की ऐसी छवि बना दी है, जिसको मैं भी नहीं जानती। पाकिस्तान को इस तरह दिखाने से पश्चिम में लोगों का नज़रिया बदल गया है।

बता दें कि पाकिस्तान ने जम्मू कश्मीर में अनुच्छेद 370 के ख़ात्मे के बाद बॉलीवुड फ़िल्मों पर बैन लगा दिया है। इससे पहले माहिरा ख़ान, मावरा होकेन और आतिफ़ असलम जैसे कलाकार भी कश्मीर को लेकर अपना राग अलाप चुके हैं। 

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

आज़ादी की 72वीं वर्षगाँठ पर भेजें देश भक्ति से जुड़ी कविता, शायरी, कहानी और जीतें फोन, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Manoj Vashisth