नई दिल्ली, जेएनएन। नवाजुद्दीन सिद्दीकी आज बॉलीवुड में किसी पहचान के मोहताज नहीं है। उन्होंने अपने अलग अभिनय के दम पर फिल्म इंडस्ट्री में अपना एक अलग मुकाम हासिल किया है। लेकिन नवाजुद्दीन सिद्दीकी का ये बॉलीवुड सफर बिलकुल भी आसान नहीं रहा है। फिल्म इंडस्ट्री में 10 साल तक दर-दर की ठोकरे बॉलीवुड में खाने के बाद भी नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने कभी हार नहीं मानी। फिल्मों में चंद सेकंड का रोल करने से लेकर एक-एक सीन करने तक का संघर्ष नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने फेस किया। आज नवाजुद्दीन सिद्दीकी अपना 48वां जन्मदिन मना रहे हैं। उनके जन्मदिन पर आज हम आपको उनकी जिंदगी से जुडी कुछ खास बातें बता रहे हैं।

उत्तर प्रदेश के इस छोटे से जिले में रहते थे नवाजुद्दीन सिद्दीकी

नवाजुद्दीन सिद्दीकी का जन्म 19 मई 1974 में उत्तर प्रदेश के मुज्जफरनगर जिले के बुढ़ाणा कस्बे में मुस्लिम जमीदार परिवार में हुआ था। हालांकि उन्होंने अपना अधिकतर समय उतराखंड में बिताया। नवाजुद्दीन सिद्दीकी अपने भाई-बहनों में सबसे बड़े हैं। उन्होंने अपनी ग्रैजुएशन हरिद्वार के गुरुकुल कांगड़ी विश्वविद्यालय में केमिस्ट्री से पूरी की। जिसके बाद उन्होंने बतौर केमिस्ट गुजरात के वडोदरा में काम किया। लेकिन इसके बाद नवाजुद्दीन सिद्दीकी दिल्ली में जॉब की तलाश में आ गए, जहां उन्होंने एक प्ले देखने के बाद अभिनय करने का मन बना लिया और नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा में एडमिशन लेकर एक्टिंग सीखी।

आमिर खान की इस फिल्म से नवाजुद्दीन ने की थी शुरुआत

नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने अपने करियर की शुरुआत साल 1999 में आई आमिर खान की फिल्म 'सरफरोश' में एक छोटे से किरदार 'टेररिस्ट इन्फॉर्मर' के रूप में की थी। जिसके बाद उन्होंने रवीना की फिल्म शूल, जंगल, डॉ बाबा साहेब आंबेडकर, द बायपास, मुन्नाभाई एमबीबीएस जैसी कई फिल्मों में छोटे-छोटे किरदार किए। हालांकि उनको असली पहचान फिल्म 'गैंग्स ऑफ वासेपुर से मिली। इस फिल्म में फैजल खान के किरदार में नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने ये प्रूफ कर दिया कि वह इस इंडस्ट्री में टिकने आए हैं। इस फिल्म के बाद उन्होंने कभी भी पीछे पलट के नहीं देखा और किक, रईस और हीरोपंती जैसी फिल्मों में महत्वपूर्ण किरदार से भी लोगों का दिल जीत लिया।

View this post on Instagram

A post shared by Nawazuddin Siddiqui (@nawazuddin._siddiqui)

नवाजुद्दीन आज एक फिल्म के लिए लेते हैं इतनी फीस

नवाजुद्दीन सिद्दीकी जो कभी एक छोटे किरदार के लिए भी फिल्मों में तरसते थे, वह आज करोड़ों के मालिक हैं। हाल ही में नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने मुंबई में अपना आलीशान बंगला बनाया, जिसकी कीमत करोड़ों में है। रिपोर्ट्स की माने तो नवाजुद्दीन सिद्दीकी अपनी एक फिल्म के लिए 3 से 4 करोड़ लेते हैं और उनकी सालाना इनकम लगभग 12 करोड़ है। नवाजुद्दीन सिद्दीकी की नेटवर्थ की बात करें तो वह लगभग 96 करोड़ के आसपास है।

कान फिल्म फेस्टिवल में सातवीं बार मनाया जन्मदिन

नवाजुद्दीन ने कान फिल्म फेस्टिवल में अपनी जगह बनाई है। इस तरह से नवाज 7वीं बार इस साल अपना जन्मदिन वहां मना रहे हैं। बता दें, उनकी 2012 की रिलीज मिस लवली और गैंग्स ऑफ वासेपुर से लेकर 2013 में रिलीज हुई मानसून शूटआउट, द लंचबॉक्स, बॉम्बे टॉकीज और उसके बाद 2016 में आई फिल्म साइको रमन और 2018 में रिलीज हुई मंटो तक, सभी फिल्मों को कान फिल्म फेस्टिवल में नॉमिनेट किया गया था और जहां संयोग से नवाजुद्दीन भी मौजूद रहे हैं और अपना बर्थ डे सेलिब्रेट किया है। इस साल भी वो अपने जन्मदिन के मौके पर कांन्स 2022 में मौजूद हैं।

बॉलीवुड के बाद अब हॉलीवुड में अभिनय का मनवाएंगे लोहा

नवाजुद्दीन सिद्दीकी हाल ही में कान के रेड कारपेट पर उतरे थे। वह इंडिया का कान फिल्म फेस्टिवल में प्रतिनिधित्व कर रहे केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर के नेतृत्व के साथ भारतीय सिनेमा को रिप्रेजेंट करने के लिए पहुंचे थे। नवाजुद्दीन सिद्दीकी बॉलीवुड के बाद जल्द ही हॉलीवुड फिल्मों में अपने अभिंय से सबको दीवाना बनाने की तैयारी कर रहे हैं। वह रॉबर्टो जिरॉल्ट की अमेरिकन इंडी फिल्म 'लक्ष्मण लोपेज' में मुख्य भूमिका में नजर आएंगे।

Edited By: Tanya Arora