नई दिल्ली, जेएनएनl पत्रकार प्रतिबिम्ब शर्मा द्वारा लिखित महानाट्य ‘बापू अब भी जिंदा है’ के मंचन की तैयारियां अंतिम चरण में है। नाटक में सूत्रधार की महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले फिल्म और थियेटर के अभिनेता मनोज जोशी इन दिनों इंदिरा गांधी राष्ट्रीय कला केंद्र दिल्ली में इस महानाट्य की रिहर्सल कर रहे हैं। इस बारे में उन्होंने जागरण डॉट कॉम से अहम बातचीत की हैंl

मनोज जोशी ने कहा कि बापू की 150 जन्म जयंती पर इस नाटक के माध्यम से उनका देखा हुआ भारत लोगों के सामने लाने का प्रयत्न किया जाएगाl इस मौके पर मनोज जोशी ने यह भी कहा कि पिछले 70 वर्षों में हमने बापू के मूल्यों को उनके पुतले में कैद कर दिया गया हैl जबकि 70 वर्षों में यह देश का प्राण बन जाना चाहिए थाl इसी के चलते देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को स्वच्छता अभियान चलाना पड़ रहा हैंl जोकि बापू का सपना हैंl

इस नाटक के माध्यम से आज की वस्तुस्थिति और बापू के दर्शन को भी दिखाने का प्रयत्न किया जाएगाl उन्होंने आगे यह भी कहा कि बापू का विराट व्यक्तित्व देश की सीमाओं से परे है। उनका त्याग, तपस्या, सत्य के प्रति अगाध विश्वास, अहिंसा का मंत्र, उन्हें ना सिर्फ आज भी प्रासांगिक बनाए हैं बल्कि आज तक जीवित रखे हुए हैं बापू के जीवन पर बहुत से नाटक और फिल्म बनी है लेकिन ' बापू अब भी जिंदा है' महानाट्य में मोहन नाम के एक सामान्य बच्चे के हर एक घटना और व्यक्ति से सीख लेकर आगे बढ़ने और मोहनदास करमचंद गांधी बनते हुए राष्ट्र के बापू बन जाने की एक विराट यात्रा को चित्रित किया गया है और इस विचार को स्थापित करता है।

नाटक का मंचन 2 अक्टूबर को महात्मा गांधी की 150 वीं जयंती के अवसर पर दिल्ली के सिरी फोर्ट सभागार में किया जाएगा।

यह भी पढ़ें: Kangana Ranaut Slammed Bollywood: चेन्नई में पड़े सूखे पर बॉलीवुड की चुप्पी पर बरसी कंगना!

‘बापू अब भी जिंदा है’ नाटक का निर्देशन कुंवर श्यामेंद्र सिंह कर रहे हैं। कुंवर श्यामेंद्र सिंह प्रतिबम्ब शर्मा लिखित तीन नाटकों मीरा के प्रभु गिरधर नागर, नरेंद्र से विवेक तक, तुमने बताया मै हिन्दू हूं सहित कई नाटकों का सफल निर्देशन कर चुके हैं। बापू अब भी जिंदा है महानाट्य के संयोजक वरिष्ठ पत्रकार श्रीराम जोशी है।

Posted By: Rupesh Kumar

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप