मुंबई। Prakash Raj accepts his defeat in Lok Sabha Election 2019 Result बेंगलुरु सेंट्रल सीट से लोक सभा चुनाव लड़ने वाले एक्टर प्रकाश राज को मतगणना शुरू होने के कुछ ही घंटों बाद अपनी हार के एहसास हो गया था और उन्होंने इसे स्वीकार करते हुए एक करारे तमाचे की तरह बताया।

बेंगलुरु सेंट्रल सीट पर कांग्रेस के रिज़वान अरशद और बीजेपी के पीसी मोहन के बीच कांटे की टक्कर चल हुई और नतीजा मोहन के पक्ष में रहा। इस सीट से प्रकाश राज निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में चुनाव में खड़े हुए थे। कहने को वो तीसरे स्थान पर रहे, मगर बहुत कम वोट मिले। प्रकाश राज को 23 मई दोपहर तक ही इस बात का एहसास हो गया था कि वो चुनाव में कहां खड़े हैं। इसीलिए ज़्यादा इंतज़ार ना करते हुए उन्होंने ट्वीट किया- ''मेरे मुंह पर करारा तमाचा पड़ा है, क्योंकि अब और अधिक गालियां, ट्रोल और अपमान मिलेगा। लेकिन मैं अपनी ज़मीन नहीं छोड़ूंगा। धर्म निरपेक्ष भारत के लिए मेरी लड़ाई जारी रहेगी। एक मुश्किल सफ़र अभी शुरू हुआ है। इस यात्रा में मेरा साथ देने वालों के लिए शुक्रिया। जय हिंद।'' 

प्रकाश राज एक बेहतरीन कलाकार हैं। मोदी सरकार के वो कड़े आलोचक रहे हैं और कई सुलगते हुए मुद्दों पर अपनी बेबाक राय रखते रहे हैं। प्रकाश राज मौजूदा चुनाव में एंटी बीजेपी स्टैंड लिया और बीजेपी का विरोध करने वाले दलों और उम्मीदवारों का साथ दिया था। बिहार के बेगूसराय में प्रकाश राज कन्हैया कुमार के लिए कैम्पेन करने भी गये थे। दिल्ली में उन्होंने आम आदमी पार्टी की उम्मीदवार आतिशी के लिए प्रचार किया था। 

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

आज़ादी की 72वीं वर्षगाँठ पर भेजें देश भक्ति से जुड़ी कविता, शायरी, कहानी और जीतें फोन, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Manoj Vashisth