अनुप्रिया वर्मा, मुंबई। संजय लीला भंसाली की फिल्म पद्मावत में दीपिका पादुकोण को शाहिद कपूर और रणवीर सिंह से अधिक फीस मिली थी। हिंदी सिनेमा में यह कम ही देखा गया है कि किसी एक्ट्रेस को उनके मेल कंटेंपररी से अधिक फीस दी जाये।

इस बारे में जब दीपिका पादुकोण से पूछा गया तो उन्होंने कहा कि वह यह डिजर्व करती हैं। उन्हें लगता है कि इसमें कोई बुराई नहीं है कि अगल एक्ट्रेसेज़ को भी अच्छी फीस मिले तो। दीपिका की 7 फिल्मों ने लगातार 100 करोड़ रूपये का आंकड़ा पार कर लिया है। ऐसे में दीपिका कहती हैं कि यह सच है कि जब भी बॉक्स ऑफ़िस पर सफलता मिलती है तो ज्यादातर नायकों को इसका श्रेय दिया जाता है, लेकिन अब यह सोच बदलने की जरूरत है। दीपिका कहती हैं “मैं गर्व महसूस करती हूं, जब लोग मेरे बॉक्स ऑफ़िस कलेक्शन की भी बात करते हैं। दीपिका कहती हैं कि मैं दूसरी अभिनेत्रियों के बारे में नहीं जानती हूं, मगर मुझे जो मिल रहा है, मैं उससे बेहद खुश हूं और मैं मानती हूं कि मैं वह डिजर्व करती हूं।

दीपिका ने नायकों की भारी भरकम फीस को लेकर बात करते हुए कहा कि कई बार एक्टर्स को यह पता नहीं होता है। मगर सच यही है कि अगर एक्टर्स अपनी फीस हद से अधिक लेते हैं तो कई बार फिल्म पर इसका भार आ जाता है। मेल एक्टर्स को इस बारे में सोचना चाहिए। अगर सभी चाहते हैं कि इंडस्ट्री सफल हो, तो मेल एक्टर्स को अपनी फीस के बारे में सोचना पड़ेगा।

दीपिका कहती हैं कि कई बार ऐसा हो जाता है कि निर्देशक फीस सुन कर ही उस एक्टर्स के पास अच्छी कहानियां लेकर जा ही नहीं पाते हैं लेकिन दीपिका ने यह भी कहा कि मैं उन स्टार्स की बात नहीं कर रही हूं जो कि खुद अपनी फिल्म प्रोडयूस भी करते हैं।

Posted By: Manoj Khadilkar