नई दिल्ली, जेएनएन। देश इस वक़्त कोरोना वायरस ख़िलाफ़ जंग में जुटा हुआ है। तमाम सरकारी और ग़ैर सरकारी संस्थाएं लॉकडाउन से प्रभावित लोगों की मदद के लिए आगे आ रही हैं। आम लोगों से लेकर ख़ास तक अपनी-अपनी क्षमता के अनुसार चैरिटी कर रहे हैं।

अब शाह रुख़ ख़ान ने पूरे प्लान के साथ मदद के लिए हाथ बढ़ाया है। किंग ख़ान ने अपनी विभिन्न कंपनी और एनजीओ के ज़रिए देश के 6 राज्यों में ज़रूरतमंदों की मदद का विस्तृत प्लान जारी किया है। इनमें पीएम केयर्स और सीएम रिलीफ़ फंड भी शामिल हैं। 

गुरुवार शाम को शाह रुख़ ने ट्वीट करके अपने प्लान को साझा किया। शाह रुख़ की ग्रुप कंपनियों की तरफ़ से एक स्टेटमेंट जारी किया गया है, जिसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारत सरकार के प्रयासों की सराहना की गयी है। साथ ही बताया गया है कि कौन सी कंपनी किस तरह चैरिटी के मिशन को आगे बढ़ाएगी।

इसे शेयर करते हुए शाह रुख़ ने लिखा- ''इस दौर में जो लोगों को, जो आपके लिए अनथक काम कर रहे हैं, जो आपसे संबंधित भी नहीं, शायद आप से अनजान भी हैं... उन्हें यह एहसास करवाना है कि वो अकेले नहीं हैं। आइए, यह सुनिश्चित करें कि हममें से सभी अपना योगदान दें और एक-दूसरे की देखभाल करें। भारत और सारे भारतीय एक परिवार हैं।''

शाह रुख़ ने इस ट्वीट के साथ जो प्लान शेयर किया है, उसके मुताबिक, उनकी आईपीएल फ्रेंचाइजी कम्पनी कोलकाता नाइट राइडर्स पीएम केयर्स फंड के लिए योगदान देगी। इस कंपनी के स्वामी शाह रुख़ ख़ान, गौरी ख़ान, जूही चावला और जय मेहता हैं। 

शाह रुख़ और गौरी ख़ान के स्वामित्व वाली फ़िल्म कंपनी रेड चिलीज़ एंटरटेनमेंट महाराष्ट्र मुख्यमंत्री राहत कोष में योगदान करेगी। केकेआर और शाह रुख़ की एनजीओ पश्चिम बंगाल और महाराष्ट्र सरकार को 50 हज़ार पीपीई (पर्सनल प्रोटेक्शन इक्विपमेंट) मुहैया करवाएगी, ताकि कोरोना वायरस से जंग में जुटे विभिन्न विभागों के कर्मचारी सुरक्षित रह सकें।

शाह रुख़ की एनजीओ मीर फाउंडेशन एक साथ के साथ मिलकर एक महीने तक मुंबई में 5500 परिवारों के लिए एक महीने तक खाने की व्यवस्था करेगी। इसके लिए एक रसोई का इंतज़ाम किया जाएगा, जो प्रति दिन 2000 मील अस्पतालों और घरों तक पहुंचाएगी। 

मीर फाउंडेशन, रोटी फाउंडेशन के साथ मिलकर कम से कम एक महीने तक 10 हज़ार लोगों के लिए 3 लाख मील किट मुहैया करवाएगी। रोटी फाउंडेशन मुंबई पुलिस के साथ मिलकर काम करती है। वर्किंग पीपुल्स चार्टर के साथ मीर फाउंडेशन दिल्ली में कम से कम एक महीने तक 2500 डेली वेज वर्कर्स को आवश्यक वस्तुओं और सब्जी का इंतज़ाम करेगा। 

इसके अलावा मीर फाउंडेशन की ओर से दिल्ली, यूपी, बिहार, उत्तराखंड और पश्चिम बंगाल के 100 एसिड अटैक सर्वाइवर्स को गुज़ारा भत्ता दिया जाएगा। 

Posted By: Manoj Vashisth

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस