राहुल सोनी, मुंबई। डांस एक एेसा एंटरटेनमेंट है जिसका यूज ज्यादातर रिएलिटी शो में किया जाता है। कोई ग्रैंड ओपनिंग हो, सिंगिंग शो का लॉन्च हो या फिर कोई डांस शो का। म्यूजिक जैसे ही बजता है तो पैर अपने आप थिरकने लगते हैं। डांसिंग शो की तो शुरूआत ही डांस से होती है। बिग बॉस तेलुगू भी जब लॉन्च किया गया था तब भी डांस परफॉर्मेंस हुई थी। डांस के लिए एक बात बहुत जरूरी है कि आप लाइव क्या कर सकते हैं इस पर ज्यादा जोर होता है। यह कहना है कि, बिग बॉस हिंदी, बिग बॉस तेलुगू और कई बॉलीवुड अवॉर्ड फंक्शन को कोरियोग्राफ कर चुके कोरियोग्राफर सुमित खेतान का। सुमित ने जागरण डॉट कॉम से एक्सक्लूसिव बातचीत में अपने कोरियोग्राफर बनने के सफर के बारे में जानकारी दी और डांस के अलग-अलग पहलुओं पर बात की। सुमित कहते हैं कि, अगर चल नहीं पाने वाले व्हील चेयर पर बैठने वाले आर्टिस्ट डांस कर सकते हैं तो फिर आप क्यों नहीं। यह पूरा खेल स्पिरिट का होता है।

कम्प्यूटर साइंस स्टूडेंट से कोरियोग्राफी तक का सफर

सुमित ने अपने सफर के बारे में बताया कि, मुझे कभी पता नहीं था कि डांस कर पाऊंगा या कोरियोग्राफी कभी कर सकूंगा। कम्प्यूटर साइंस का स्टूडेंट था। जब मैंने साइस लिया था तब ही शामक डाबर डांस की क्लासेस को सिर्फ एेसे ही ज्वाइन कर लिया था। लेकिन इसके बाद डांस अच्छा लगा। 6 साल साथ रहा और बॉलीवुड के हर अवॉर्ड में कोरियोग्राफी करने का मौका मिला। उसके बाद डांस में अलग लेवल पर जाने की इच्छा थी तो अमेरिका गया। वहां कोर्स किया और 2012 में आकर खुदकी कंपनी लॉन्च की। बाहर जाने के लिए इसलिए जरूरत लगी क्योंकि बॉलीवुड में बहुत काम किया है। लेकिन इंटरनेशनल टेक्निक को सीखना चाहता था। इससे खुदकी चीजें रीक्रिएट करना चाहता था।

इंडियन या वेस्टर्न डांस

मैं किसी डांस फॉर्म को कम या ज्यादा अच्छा नहीं मानता हूं। मैंने अपने जीवन में एक चीज सीखी है कि अगर बॉडी में मूवमेंट है तो डांस किया जा सकता है। मूवमेंट है और बॉडी में रिद्म है तो डांस कर सकते हैं। जब व्हील चेयर पर बैठे आर्टिस्ट डांस कर सकते हैं तो फिर बाकी क्यों नहीं। यह पूरा खेल स्पिरिट का होता है। अगर आप में कुछ करने का जज्बा है और स्पिरिट है तो डांस आप बखूबी कर सकते हैं।

क्या डिग्री जरूरी है

डिग्री से ज्यादा लाइव आप क्या कर सकते हैं वो जरूरी ज्यादा होता है। कोर्स करते हैं तो सर्टिफिकेट मिलता है तो अच्छा लगता है। लेकिन इस बात पर फोकस भी ज्यादा रहता है कि आप लाइव कितना कर सकते हैं और करवा सकते हैं। कही भी कर सकता हूं डांस डांस मेरे लिए सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण है। मेरे लिए इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता कि मैं कहां डांस कर रहा हूं। कही पर भी हो अगर म्यूजिक है तो मैं डांस करने लग जाता हूं। उस समय मैं यह नहीं देखता कि कौन मुझे जज कर रहा है। हां इतना जरूर है कि, अगर वो जगह डांस करने के लिए नहीं है या प्रोफेशनल लेवल पर वहां डांस करने की अनुमति नहीं है तो फिर वहां एेसा नहीं करता हूं।

रिएलिटी शो नहीं होते तो हम भी नहीं होते

रिएलिटी शोज़ के बारे में सुमित का कहना है कि, रिएलिटी शोज़ अगर नहीं होते तो हम भी नहीं होते। इन शोज़ से डांस और म्यूजिक को लेकर लोगों में अवेयरनेस बढ़ी है। अब परिवार डांस को बतौर करियर देखने लगा है और अपने बच्चों को वे इस फील्ड में जाने की परमिशन भी दे रहे हैं। हमारे यहां डांसर्स और कोरियोग्राफर को उतनी इज्जत नहीं मिलती जितनी की विदेशों में दी जाती है। विदेश में अगर आप कहते हैं कि मैं कोरियोग्राफर हैं तो वे आपको बिल्कुल उसी प्रकार ट्रीट करते हैं जिस प्रकार वे एक डॉक्टर को करते हैं। हमारे यहां डांस रिएलिटी शो को लेकर कुछ इम्प्रूवमेंट्स की जरूरत है कि इसमें ड्रामे की बजाय डांस पर ज्यादा फोकस रहे। क्योंकि जो डांस देखना चाहता है वो सिर्फ डांस की ही तलाश करेगा।

स्ट्रेस बस्टर है डांस

डांस के फायदे के बारे में बताते हुए सुमित कहते हैं कि, डांस और म्यूजिक से स्ट्रस को कम किया जा सकता है। आज हम किसी न किसी स्ट्रेस में होते हैं। लेकिन अगर आप म्यूजिक चलाए तो आप अपने आप झिरकने लगेंगे और आप रिलेक्स फील करेंगे। दरअसल, डांस और म्यूजिक की दुनिया ही अलग है जो आपको उसके झोन में ले जाती है। डांस से हुई थी बिग बॉस की शुरूआत सुमित तेलुगू बिग बॉस के बारे में बताते हैं कि, जब इसमें सभी आर्टिस्ट घर के अंदर गए थे तब उनकी ग्रैंड एंट्री की कोरियोग्राफी की थी और सभी डांस करते हुए अंदर पहुंचे थे। तेलुगू के प्रसिद्ध स्टार नाना जो कि इस शो के होस्ट हैं उनके लिए कोरियोग्राफी की है। इस शो में हम खास तौर से 15 अगस्त और रक्षा बंधन के लिए स्पेशल परफॉर्मेंस के लिए कोरियोग्राफी की जा रही है।

सलमान को किया कोरियोग्राफ

अपनी यादगार किस्सों के बारे में सुमित बताते हैं कि, सलमान खान को एक अवॉर्ड शो में कोरियोग्राफ किया था। इससे पहले कई बार उनको कोरियोग्राफ किया था लेकन इस बार डायरेक्टली सलमान से कम्युनिकेट कर पाया था।

Posted By: Rahul soni

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप