नई दिल्ली, जेएनएनl फिल्म एक्ट्रेस दीपिका पादुकोण ने फिल्म 'छपाक' में एसिड अटैक सर्वाइवर लक्ष्मी अग्रवाल की भूमिका निभाई थीl अब एसिड अटैक से बची लक्ष्मी अग्रवाल ने फैजल सिद्दीकी के टिक-टॉक वीडियो के खिलाफ मोर्चा संभाला हैं। उन्होंने फैजल के टिक-टॉक अकाउंट के खिलाफ हुई कार्रवाई के लिए राष्ट्रीय महिला आयोग (NCW) का धन्यवाद भी दिया।

हालांकि दीपिका पादुकोण अभी भी इस विषय पर चुप है। दीपिका ने अपनी आखिरी फिल्म 'छपाक' में पर्दे पर लक्ष्मी की भूमिका निभाई थींl    हालांकि दीपिका ने इस मामले पर अभी चुप्पी साध रखी है लेकिन लक्ष्मी ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर फैजल सिद्दीकी को जमकर लताड़ लगाई हैं। उन्होंने वीडियो को अपराधों को बढ़ावा देने वाला बताया और वीडियो को डिलीट और फैजल के टिक-टॉक अकाउंट को बैन करने का समर्थन किया।

 

 

 

 

 

 

 

 

View this post on Instagram

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

tik tok ne meri awaj hi band kar diya, sahi baat ke liye jab awaj uthai jati hai to awaj hi band kar di jati hai, mere pass Anthony ne ye video bheja save thaa unake phone me wahh tik tok isah liye crime badh rahe hai sahi chizo par baat karna hi mushkil kar diya jata hai 👏👏 @tiktok @indiatiktok

A post shared by Laxmi Agarwal (@thelaxmiagarwal) on

लक्ष्मी अग्रवाल कहती है, 'टिक-टॉकर फैजल सिद्दीकी के एसिड अटैक को बढ़ावा देने वाले वायरल वीडियो का संज्ञान लेने के लिए राष्ट्रीय महिला आयोग का धन्यवाद। ऐसे वीडियो और हरकतों पर सख्ती से रोक लगाई जानी चाहिए, जो समाज के खिलाफ हैं। महिलाओं के खिलाफ हो रही हिंसा और एसिड अटैक को रोकने के लिए हम दिन-रात काम कर रहे हैं। आपकी हरकतों को अपराध को बढ़ावा देने वाला कहा जाता है। ऐसे व्यक्ति हमारे समाज के लिए अभिशाप हैं। इसलिए सोशल मीडिया से इस तरह के वीडियो और अकाउंट को बैन करना चाहिए। आगे आइए हम आपसे एसिड हिंसा को रोकने का आग्रह करते हैं।'

गौरतलब है कि इसके पहले टिक-टॉक ने लक्ष्मी के वीडियो को म्यूट कर दिया था। टिक-टॉक पर गुस्सा उतारते हुए उन्होंने कहा था, 'वाह (गुस्से से भरा चेहरा) टीक टॉकने मेरी आवाज ही बंद कर दी, सही बात के लिए जब आवाज उठाई जाती है ऐसे ही बंद कर दी जाती हैl' गौरतलब है कि फैन दीपिका पादुकोण की चुप्पी पर सवालिया निशान लगा रहे है और पूछ रहे हैं कि फिल्म छपाक के प्रमोशन के लिए आप दो गुटों में हुई मारपीट में एक का पक्ष लेने JNU गई थीं तो लक्ष्मी अग्रवाल के पक्ष में कब बोलेंगीl 

Posted By: Rupesh Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस