अनुप्रिया वर्मा, मुंबई। सोनम कपूर ने पापा अनिल कपूर के बारे में बताया है कि उनके पिता को बेटियों से इस कदर प्यार था कि वो अपनी तीसरी संतान भी बेटी ही चाहते थे और पूरे घर में इसकी तैयारियां भी हो गयी थीं।

सोनम कहती हैं कि यही वजह है कि हमारे घर में कभी भी लड़कियों को लेकर लड़कों के बीच भेदभाव नहीं किया गया है। सोनम कहती हैं कि मैं घर पर सबसे बड़ी थी, तो सबसे ज्यादा तो प्यार मुझे मिलता था। पापा कभी भी नहीं कहते थे कि तुम कुछ नहीं कर सकतीं। हमेशा कहते आये कि जो करना है, करो। लोगों को यह बात जानकर आश्चर्य होगा कि हम तीनों भाई-बहनों में कभी कमरों को लेकर भी भेदभाव नहीं हुए हैं। ऐसा नहीं है कि हर्ष लड़का है तो उसे अलग कमरा दिया जाता था। पहले मैं और रिया कमरा शेयर करते थे। फिर हर्ष और रिया करते थे। मुझे सबसे पहले सिंगल कमरा मिला था। सोनम कहती हैं कि जब वह बॉलीवुड में आयीं और उनके सामने अभिनेता और अभिनेत्री को लेकर होने वाले भेदभाव सामने आये तो वह चौंक गयी थीं।

यह भी पढ़ें: 15 साल की उम्र में सोनम को इसलिए होता था स्ट्रेस, बात पैडमैन से जुड़ी है

 

वह कहती हैं कि मुझे कहा गया कि तुम्हें छोटा रूम मिलेगा। शूटिंग के वक्त हीरो को सबसे बड़ा रूम मिलेगा और हीरो को ज्यादा पैसे मिलेंगे और तुम्हें कम क्योंकि तुम लड़की हो वह लड़का है तो मैं चौंक गयी थी। मुझे लगा कि घर पर तो कभी ऐसा हुआ नहीं। अगर हर्ष को 500 रुपये महीने के मिलते थे। तो मुझे भी 500 ही मिलते थे। अचानक से मेरे सामने यह बात हुई तो शुरू में मुझे इन बातों को लेकर परेशानी होती थी। रियल वर्ल्ड में आकर मुझे लगा कि लोग ऐसी सोच कैसे रख सकते हैं। सोनम ने आगे कहा कि उन्हें लगता कि कहीं भी भेदभाव नहीं होने चाहिए। मेरिट के अनुसार ही उनकी फीस भी तय होनी चाहिए।

By Manoj Vashisth