अनुप्रिया वर्मा, मुंबई। अक्षय कुमार का कहना है कि जब वह फिल्मों में आये थे, तो उनके बारे में निर्देशकों का मानना था कि वह एक्टिंग नहीं कर सकते. हाल ही में एक कार्यक्रम के दौरान उन्होंने यह राज़ खोला.

अक्षय कहते हैं कि शुरुआती दौर में उन्होंने लगातार एक्शन फिल्में इसलिए की, क्योंकि उन्हें उसके अलावा और कुछ नहीं आता था. लगभग 11 से 13 साल तक उन्होंने सिर्फ एक्शन फिल्में ही की. वह कहते हैं कि उन्होंने बैंकॉक से पांच सालों तक थाई बॉक्सिंग की ट्रेनिंग ली थी और वहीं से मन बना लिया था कि मैं मुंबई आकर मार्शल आर्टस स्कूल खोलूंगा.

अक्षय ने यह बात स्वीकारी कि यह सच है कि मैं शुरुआत में इंडस्ट्री में सिर्फ पैसे ही कमाने आया था. शुरुआत में उन्हें पांच हजार रुपये मिल रहे थे. मार्शल आर्ट सिखाने के. वही उन्होंने एक मॉडल के रूप में पोज दिया तो उन्हें 21 हजार रुपये मिल गए थे. उन्होंने बताया कि उन्होंने फर्निचर के शोरूम के लिए मॉडलिंग की थी और दो घंटे में 21 हजार मिलने लगे थे. अक्षय कहते हैं कि मुझे लगा कि इससे अच्छी जगह और क्या होगी और मैंने फिर लगातार मॉडलिंग की और फिर फिल्मों में एंट्री ली.

अक्षय स्पष्ट कहते हैं कि उनकी 135 - 140 फिल्मों में सबसे ज्यादा फिल्में एक्शन की ही फिल्में हैं. उस वक्त र्प्रोडयूसर या निर्देशक उन्हें लेकर और कुछ करने के बारे में सोचते नहीं थे. वह सिर्फ उन्हें एक्शन करने ही देते थे लेकिन धीरे-धीरे उन्होंने खुद को कॉमेडी और फिर रोमांटिक फिल्मों की तरफ़ मोड़ा. अक्षय ने साफ कहा कि बाद में उन्हें लेकर दर्शकों का नजरिया बदला. बता दें कि अक्षय की आनेवाली फिल्म 2.0 है, जिसमें उनके साथ रजनीकांत भी हैं.

यह भी पढ़ें: मुन्नाभाई की तीसरी कड़ी कब और किसके साथ आ रही है, राजू से सुनिए, Video देखिये

Posted By: Manoj Khadilkar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस